उत्तराखंड से बड़ी खबर : आफत बने हेलीकाॅप्टर, वन विभाग ने कंपनियों को दिया ये आदेश

रुद्रप्रयाग : कोरोना के बाद हालात सामान्य की तरफ बढ़ रहे हैं। धीरे-धीरे अनलाॅक के बाद केदारनाथ धाम में हेली सेवाओं के जरिए यात्रा की अनुमति दे दी गई है। लेकिन, हेली कंपनियों के हेलीकाॅप्टर वन्यजीवों पर प्रतिकुल प्रभाव डाल रहे हैं। स्थिति का आंकलन करने के बाद वन विभाग ने हेली कंपनियों के लिए आदेश जारी किया है।

वन विभाग के अनुसार विभाग ने एक स्टडी कराई थी, जिसमें ये कहा गया कि जमीन से कम से कम 600 मीटर से ऊपर अगर हेलीकॉप्टर जाएगा तो वहां के वन्य जीवों पर कोई विपरीत असर नहीं होगा। इसके बाद विभागीय अधिकारियों ने कंपनियों को आदेश जारी कर दिया है। निगरानी के लिए मॉनिटरिंग स्टेशन भी बनाए हैं।

केदारनाथ वन विभाग के डीएफओ अमित कंवर ने बताया कि अध्ययन के बाद ही यह निर्णय लिया गया है। केदारनाथ वन्य जीव अभयारण्य से होकर केदारनाथ मंदिर जाने के रास्ते में हेलीकॉप्टर कंपनियों को अभयारण्य के ऊपर 600 मीटर से अधिक ऊंचाई पर हेलीकॉप्टर उड़ाने होंगे। हेली कंपनियां इसका उल्लंघन नहीं कर पाएंगी। इसके लिए माॅनीटरिंग सेंटर बनाए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here