उत्तराखंड से बड़ी खबर : डाॅक्टरों ने उठाया ये कदम, मरीजों पर आई आफत!

हल्द्वानी : राजकीय मेडिकल कॉलेज में एक बार फिर से पीजी डॉक्टर हड़ताल पर चले गए हैं। दरअसल, हड़ताल पर गए पीजी डॉक्टरों का कहना है कि उन्हें सरकार द्वारा आधा वेतन दिया जा रहा है, जबकि पूर्व में पूरा वेतन दिया जाता था। इसके बाद वो कोर्ट में भी गए। इसी साल की शुरुआत में 6 जनवरी को मुख्यमंत्री ने भी सभी पीजी डॉक्टरों को पूर्ण वेतन दिए जाने की घोषणा की थी, लेकिन 9 महीने बीत जाने के बाद भी डॉक्टरों को पूरा वेतन नहीं दिया जा रहा है।

उनका कहना है कि पिछले महीने भी सांकेतिक हड़ताल के बाद सरकार ने 1 महीने का वक्त मांगा था। अब वह भी पूरा हो गया है, लिहाजा सभी पीजी डॉक्टर हड़ताल पर चले गए हैं। वहीं, राजकीय मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य का कहना है पीजी डॉक्टरों से बात की जा रही है। साथ ही उनसे आग्रह किया जा रहा है कि उनकी मांगों को शासन तक पहुंचा दिया गया है।

जब तक शासन कोई निर्णय नहीं लेता है, वो अपनी हड़ताल वापस ले लें। डॉक्टरों का कहना है कि जब तक उन्हें पूर्ण वेतन दिए जाने का लिखित आश्वासन कैबिनेट में पास नहीं हो जाता। तब तक वह हड़ताल पर रहेंगे। डॉक्टरों की हड़ताल का असर सीधे सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती मरीजों के उपचार पर पड़ रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here