उत्तराखंड से बड़ी खबर : भारतीय सीमा में चीनी सैनिकों के घुसपैठ की चर्चा, अधिकारियों ने दिया ये जवाब!

चमोली : भारत-चीन के बीच तनातनी के बीच उत्तराखंड की चीन से लगी सीमा पर बाड़ाहोती में चीनी सैनिकों की घुसपैठ की चर्चा चल रही है। चर्चा है कि 12 सितंबर की सुबह चीनी सैनिक बाड़ाहोती क्षेत्र में आए थे और दोपहर को वापस लौट गए। सीमा पर निरीक्षण करने गई प्रशानिक अधिकारियों की टीम तो आपास लौट आई, लेकिन घुसपैठ हुई या नहीं। इस संबंध में कोई जानकारी नहीं दी।

चार सितंबर को बाड़ाहोती निरीक्षण के लिए जिला स्तरीय प्रशासनिक अधिकारी के नेतृत्व में गई 16 सदस्यीय टीम 10 सितंबर को वापस लौटी है। की सुबह चीनी सैनिक बाड़ाहोती क्षेत्र में आए थे और दोपहर को वापस लौट गए। दैनिका जागरण की एक रिपोर्ट के अनुसार चीनी सैनिक याक के साथ देखे गए थे। चमोली की जिलाधिकारी स्वाति एस. भदौरिया और पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चैहान ने घुसपैठ से इंकार किया है। पुलिस महानिदेशक लाॅ एंड आॅर्डर अशोक कुमार का कहना है कि बाड़ाहोती नो मैंस लैंड है।

यहां साल में दो-तीन बार भारत और चीन के सैनिक आते-जाते रहते हैं। हाल फिलहाल में चीनी सैनिकों के बाड़ाहोती में आने की कोई सूचना नहीं है। इससे पहले जुलाई 2017 में चीन के करीब 200 सैनिक बाड़ाहोती में घुसे थे। तब भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल के जवानों से उनकी झड़प भी हुई। इसके बाद चीनी सैनिक वापस लौट गए। इसी माह चीन के सैनिकों ने तीन से आठ जुलाई के बीच पांच बार बाड़ाहोती में घुसपैठ का प्रयास किया था, जिसे आईटीबीपी के जवानों ने नाकाम कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here