बड़ी खबर : उत्तराखंड के इस शहर में पकड़ी गई 2 करोड़ से ज्यादा कीमत की नकली दवाएं

रुड़की : नकली दवाओं का कारोबार सालों से चल रहा है। उत्तराखंड में यह धंधा काफी समय से चल रहा है और लगातार अपने पैर पसार रहा है। ताजा मामला हरिद्वार जिले के रुड़की में सामने आया है। जिले के माधोपुर गांव में शनिवार की देर राता को औषधि नियंत्रण विभाग की टीम ने छापामारी की। इस दौरान दवा कंपनी में करोड़ों की नकली दवाएं पकड़ी गई।

माधोपुर गांव में जिस वीआर फार्मा दवा कंपनी से करीब दो करोड़ रुपए की नकली दवाएं बरामद हुई हैं। जानकारी के अनुसार दवाएं विभिन्न मल्टीनेशनल दवा कंपनियों की हैं। ये एंटीबायोटिक और हाइपरटेंशन की दवाएं हैं। पुलिस ने कंपनी संचालक समेत दो व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है। बरामद दवाओं के सैंपल जांच के लिए लैब भेजा दिए गए हैं। बताया जा रहा है कि ये दवाएं सेलखड़ी और उससे मिलती-जुलटी दूसरी चीजों से बनाई गई हैं

गंगनहर कोतवाली क्षेत्र में माधोपुर गांव में एक दवा कंपनी है। औषधि नियंत्रण विभाग हरिद्वार के औषधि निरीक्षक मानवेंद्र सिंह राणा ने कंपनी में नकली दवा होने की सूचना पर गंगनहर पुलिस के साथ छापा मारा। कंपनी के भीतर करीब 20 कार्टन में दवा भरी हुई थीं। औषधि निरीक्षक ने बताया कि कार्टन के भीतर एफडीसी और टोरेंट जैसी नामी कंपनियों के पैकेट में नकली दवाएं पैक की गई थी। इन्हीं दवाओं को नामी कंपनियों के नाम से बाजार में बेचा जा रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here