बड़ी खबर : बैठक से पहले सतपाल महाराज ने पूरी कैबिनेट को बांटा था बदरीनाथ धाम का प्रसाद!

फाइल फोटो

देहरादून : कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज समेत उनकी पत्नी, बेटे और बहुएं कोरोना पॉजिटिव आई हैं इतनी है नहीं इनके समेत कुल 22 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं जिनमे कर्मचारी भी शमिल हैं जिनको एम्स में भर्ती किया गया है।

21 मई को हुई कैबिनेट बैठक में बांटा था प्रसाद

वहीं कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज से जुड़ी एक और बड़ी खबर है। जी हां खबर है कि कैबिनेट बैठक से पहले सतपाल महाराज ने मुख्यमंत्री और सहयोगी मंत्रियों को प्रसाद बांटा था। प्रसाद का 29 मई से पहले 21 मई को हुई कैबिनेट बैठक में बांटा गया था। चूंकि विरतण के बाद अभी 14 दिन की अवधि पूरी नहीं हुई है लिहाजा प्रसाद ग्रहण करने वाले मंत्रियों में इसे लेकर भय है। 

ट्रेवल हिस्ट्री और सम्पर्क में आए लोगों की जानकारी जुटाई जा रही

वहीं स्वास्थ्य विभाग महाराज और उनके परिजनों की ट्रेवल हिस्टी और ये जानने में जुट गए हैं कि वो किस-किस से मिले थे। इससे उत्तराखंड की राजनीति में हलचल मच गई है और सीएम समेत कई मंत्री सेल्फ क्वारंटीन हो गए हैं। सचिवालय स्थित सीएम के कार्यालय को बंद कर दिया गया है। पूरे सचिवालय को सैनिटाइज किया गया है।

सतपाल महाराज ने पूरी कैबिनेट को बांटा था बदरीनाथ धाम का प्रसाद

खबर है कि बीते 21 मई को सचिवालय में हुई कैबिनेट बैठक में सतपाल महाराज ने मुख्यमंत्री और अन्य कैबिनेट मंत्रियों को प्रसाद बांटा था। प्रसाद बदरीनाथ धाम का बताया जा रहा है। कैबिनेट मंत्री हरक रावत ने इसकी पुष्टि की है।

उनके कोरोना पॉजिटिव आने के बाद मैं होम क्वारन्टाइन-हरक सिंह रावत

हरक सिंह रावत ने बताया कि वो 21 मई और 29 मई की दोनों कैबिनेट में शामिल थे। सतपाल महाराज की ओर से प्रसाद वितरण 21 मई को किया गया था। उनके कोरोना पॉजिटिव आने के बाद वो होम क्वारन्टाइन रहते हुए पूरे एहतियात बरत रहा हूं। यहां गौर करने वाली बात यह है कि सतपाल महाराज का डालनवाला देहरादून स्थित निजी निवास को जिला प्रशासन ने 20 मई से आगामी 3 जून तक के लिए होम क्वारन्टाइन घोषित किया है। हालांकि इसका नोटिस बीते 26 मई को उनके आवास पर चस्पा किया गया। यानि होम क्वारन्टाइन अवधि में महाराज ने 21 मई को सहयोगी मंत्रियों को प्रसाद बांटा गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here