उत्तराखंड में बड़ा खुलासा : बीसी खंडूरी को रक्षा समिति के अध्यक्ष पद से इसलिए हटाया गया

देहरादून : पौड़ी से वर्तमान सांसद बीसी खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी के कांग्रेस जॉइन करने के बाद सबके जहन में एक ही सवाल उमड़ रहा था और वो ये की आखिर जब पिता भाजपा में हैं और सांसद हैं तो ऐसी क्या वजह रही कि बेटा मनीष खंडूरी पिता के विपक्षी पार्टी में जा शामिल हुआ.

बेटे ने लिया पिता के अपमान का बदला?

खबर उत्तराखंड ने पहले ही मनीष खंडूरी के कांग्रेस में शामिल होने के बड़े कारण को पाठकों को बताया था और वो ये की जब उनके पिता केंद्र में रक्षा समिति के अध्यक्ष थे तो उन्होंने सेना के लिए कुछ मांगे सरकार के सामने रखी थी जिस कारण उनका विरोध हुआ और उन्हें रक्षा समिति के अध्यक्ष पद से हटा दिया गया था और पिता के इसी अपमान का बदला मनीष खंडूरी ने भाजपा से लिया और देहरादून के परेड ग्राउंड में राहुल गांधी की उपस्थिति में कांग्रेस में शामिल हुए.

श्याम जाजू ने किया इसको लेकर बड़ा खुलासा

वहीं आज देहरादून में श्याम जाजू ने पत्रकार वार्ता आयोजित की और बीसी खंडूरी के रक्षा समिति के अध्यक्ष पद से खंडूरी को हटाए जाने पर बड़ा बयान दिया. भाजपा प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू ने कहा कि बीसी खण्डूरी को खराब स्वास्थ्य के चलते रक्षा समिति के अध्यक्ष पद से हटाया गया था. साथ ही उन्होंने कहा कि उत्तराखंड के नेताओं को पहली बार केंद्र में अहम जिम्मेदारी मिली जिसमें बीसी खण्डूरी को रक्षा समिति का अध्यक्ष पद, भगत सिंह कोश्यारी को केंद्र में जिम्मेदारी सौंपी गई थी साथ ही अजय टम्टा केंद्रीय राज्य मंत्री बनाया गया था.

श्याम जाजू ने आज लोगों के मन में उठ रहे सवालों का जवाब देते हुए कहा कि बीसी खंडूरी को खराब स्वास्थय के चलते पद से हटाया गया. अचानक इस सवाल का जवाब देकर फिर से भाजपा ने लोगों के मन में कई सवाल खड़े कर दिए हैं कि आखिर अब इस सवाल का जवाब क्यों दिया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here