आईडी गढ़वाल का बड़ा फैसला, भाजपा विधायक यौन उत्पीडन मामला पौड़ी पुलिस को ट्रांसफर

द्वाराहाट से भाजपा विधायक महेश नेगी पर महिला ने यौन उत्पीडन का आरोप लगाया था जिसकी जांच की जा रही थी। वहीं इस मामले पर नया मोड़ आ गया है। आईजी गढ़वाल के फैसले से भाजपा सहित पुलिस में भी हड़कंप मच गया है। बता दें कि भाजपा विधायक महेश नेगी के खिलाफ दर्ज दुष्कर्म और उनकी पत्नी रीता नेगी के खिलाफ पीड़िता को धमकाने के मामले की जांच अब देहरादून पुलिस के बजाय पौड़़ी पुलिस करेगी। जी हां आईजी गढ़वाल अभिनव कुमार ने दोनों मुकदमे पौड़ी महिला थाने को ट्रांसफर कर दिए हैं। वहीं, पीड़िता के खिलाफ नेहरू कालोनी थाने में दर्ज ब्लेकमेलिंग के मुकदमे में दाखिल चार्जशीट भी रिकॉल (वापस) करने के आदेश दिए गए हैं।

13 अगस्त को विधायक की पत्नी ने लगाया था आरोप

आपको बता दें कि विधायक महेश नेगी की पत्नी रीता नेगी ने 13 अगस्त को पीड़ित महिला,पति समेत 4 के खिलाफ ब्लैक मेलिंग का मुकदमा दर्ज कराया था। वहीं महिला ने विधायक पर रेप का आरोप लगाते हुए बेटी को उनका बताया था और डीएनए टेस् की मांग की थी। वहीं इसके बाद एक टीम गठित की गई जो की सबूत इक्ट्टा कर रही है। महिला ने अपने बयान में जहां जहां विधायक के साथ जाने और दुष्कर्म करने की बात कही टीम वहां वहां गई औऱ सबूत इक्कट्टा किए। टीम को कई सबूत विधायक के खिलाफ मिले। महिला ने दून पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े किए थे और सहीं ढंग से जांच न करने का आरोप लगाया था।

वहीं इस बीच अब आईजी गढ़वाल ने जांच पौड़ी पुलिस को ट्रांसफर कर दी है। साथ ही पीड़िता के विरुद्ध पूर्व में दर्ज ब्लेकमेलिंग के नेहरू कॉलोनी थाने में दर्ज मुकदमे में दाखिल चार्जशीट भी रिकॉल (वापस) करने के आदेश हुए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here