देहरादून : शातिर दिमाग ने पहुंचाया जेल, अस्पताल में वार्ड बॉय ऐसे करते थे इंजेक्शन और दवाइयों की कालाबाजारी

देहरादून की क्लेमेंट टाउन थाना पुलिस ने इंजेक्शन और दवाइयों की कालाबाजारी करते दो वार्ड बॉय को गिरफ्तार किया है। वार्ड बॉयों के शातिर दिमाग ने उन्हे जेल पहुंचा दिया।

बता दें कि कोरोना काल में ऑक्सीजन और जीवन रक्षक दवाइयां व मेडिकल उपकरणों की कालाबाजारी के कई मामले सामने आ रहे हैं। जिसकी रोकथाम के लिए पुलिस सतर्क है। कालाबाजारी की रोकथाम के लिए थानाध्यक्ष क्मेंलेट टाउन ने कुछ पुलिसकर्मियों की सादे वस्त्रों में पुलिस टीम बनाई गई है।

पुलिस टीम द्वारा अपना मुखबिर तंत्र सक्रिय करते हुए जानकारी हासिल की गई कि वेल्मेड अस्पताल के आसपास दवाइयां व इंजेक्शन अधिक मूल्य पर बेचे जा रहे हैं। जानकारी मिली की वेलमेड अस्पताल के 2 वार्ड बॉय इस कालाबाजारी में लिप्त हैं जो पेशेंट वेलमेड अस्पताल से डिस्चार्ज होकर जाते हैं उनकी दवाइयां अपने पास रख लेते हैं और दूसरे मरीजों को उन दवाइयों को अधिक मूल्य पर बेच देते हैं जिसकी जानकारी वेल्मेड प्रशासन को मिलने पर उनके द्वारा दोनों वार्ड बॉय को हॉस्पिटल से निकाल दिया गया और उनके विरुद्ध थाने पर शिकायत दर्ज कराई गई जिस पर प्रभावी कार्रवाई करते हुए दोनों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर अंतर्गत धारा 420, 270, 269, आईपीसी व 53 आपदा प्रबंधन अधिनियम तथा 3 महामारी एक्ट में अभियोग पंजीकृत किया गया।

आरोपियों का नाम का पता

1- अमन बिष्ट पुत्र स्वर्गीय संजय बिष्ट निवासी शिव नगर डिफेंस कॉलोनी थाना नेहरू कॉलोनी देहरादून

2-सौरभ शर्मा पुत्र स्वर्गीय प्रेम शंकर शर्मा निवासी हरीपुर नवादा थाना नेहरू कॉलोनी देहरादून

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here