उत्तराखंड में यहां पकड़ा गया बड़ा सट्टा रैकेट, 4 सट्टेबाज गिरफ्तार

 

 

काशीपुर: आईपीएम मैचों के दौरान सट्टेबाजी का खेल भी जमकर चल रहा है। आॅनलाइन सट्टा लगाया जा रहा है। पिछले दिनों देहरादून में एक बड़े रैकेट का खुलासा हुआ था। अब काशीपुर में एक बड़े सट्टेबाजी रैकेट का खुलासा हुआ है। पुलिस डेढ़ लाख की नकदी, एक कार और चार मोबाइल समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है। जबकि काशीपुर और बाजपुर में रहने वाले दो बुकी फरार हो गए।

एएसपी राजेश भट्ट ने बताया कि कोतवाली पुलिस को सट्टे को लेकर काफी शिकायतें मिल रही थीं। इसके बाद उन्होंने और सीओ काशीपुर अक्षय प्रहलाद कोंडे ने कोतवाली पुलिस को इस तरह की गतिविधियों को रोकने के निर्देश दिए। बुधवार रात कोतवाली पुलिस को सूचना मिली की कुछ लोग शुगर फैक्ट्री गेट के पास एक कार में हैं और सट्टा खिलवा रहे हैं। यह लोग मुंबई इंडियन व रायल चैलेंज बैंग्लोर के होने वाले मैच में पैसा लगवा रहे हैं और काफी लोग सट्टा लगा रहे थे।

पुलिस ने मौके पर पहुंच कर उन्हें दबोच लिया। ये रैकेट लोगों से ऑनलाइन वेबसाइट के जरिए आइपीएल मैचों में पैसा लगवाता था और जीतने वाले को रेट की हिसाब से भुगतान करता था। आलेहसन बीते तीन-चार साल से आनलाइन सट्टा लगवाने का काम करता आ रहा है। उसके फोन में आनलाइन डिमांड नाम की वेबसाइट पर सेठ135 आइडी का इस्तेमाल कर सट्टा लगाया जा रहा था।

आलेहसन की आइडी में आनलाइन मैच की अपडेट रेट डेट, बैट हिस्ट्री व हिसाब-किताब की जानकारी मिली। एएसपी ने बताया कि यह नए तरह का जुआ है। पकड़े गए चारो लोग उत्तर प्रदेश के रामपुर के निवासी हैं। यहां सट्टा लगाने के लिए आदमी को बैटिंग वेबसाइट की जानकारी इस गिरोह के सदस्यों की ओर से दी जाती थी। उन्हें लालच देकर इसमें शामिल होने के लिए राजी किया जाता था। लोगों को फंसाने के लिए बाकायदा कमीशन बेस पर एजेंट रख रखे थे।

यह एजेंट लोगों से फोन पर संपर्क करते थे और उन्हें मैच में पैसा लगाने के लिए कहते थे। पकड़े गए आरोपियों ने बताया कि आनलाइन सट्टा लगाने के लिए उन्हें आइडी बाजपुर निवासी गुरुजी ने उपलब्ध करवाई थी। बाजपुर में सट्टा लगाने वालों को आइडी गुरुजी और काशीपुर में सट्टा लगाने वालों को आइडी नीटू उर्फ पाजी द्वारा उपलब्ध करवाई जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here