बड़े हमले की साजिश, गिरफ्तार आतंकी को पाकिस्तान से आते थे कॉल

मुंबई: पिछले दिनों मुंबई पुलिस ने जोगेश्वरी इलाके से एक आतंकी को गिरफ्तार किया था। उसकी जांच में अब बड़े खुलासे हो रहे हैं। जांच में सामने आया कि है कि 17 सितंबर को गिरफ्तार किए गए जाकिर शेख का नेटवर्क पाकिस्तान से है। मुंबई एटीएस ने खुलासा किया है कि जाकिर शेख को सीधे पाकिस्तान से निर्देश मिल रहे थे और वह भीड़-भाड़ वाले इलाकों में कई आतंकी हमले करने वाला था।

एटीएस ने जाकिर पर यूएपीए के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। जाकिर के साथ अन्य दो संदिग्धों रिजवान मोमिन और इरफान शेख को 11 अक्तूबर तक एटीएस ने हिरासत में रखा है। महाराष्ट्र एटीएस चीफ विनीत अग्रवाल ने बताया कि जाकिर लगातार पाकिस्तान में किसी से बात कर रहा था। जांच में वॉयस ओवर इंटरनेट प्रोटोकॉल कॉल से पता चला है कि उसे पाकिस्तान से कॉल आए थे। जो नंबर एटीएस को मिले हैं उनमें आईपी एड्रेस पाकिस्तान का ही है।

मुंबई एटीएस इस मामले को डी कंपनी यानी दाऊद कनेक्शन से भी जोड़ कर देख रही है। क्योंकि जिस समीर कालिया की निशानदेही पर जाकिर की गिरफ्तारी हुई थी, उस समीर कालिया की डी कंपनी से फंडिंग होती थी। हथियार भी उसे डी कंपनी ही उपलब्ध कराती थी। ऐसे में जाकिर का कनेक्शन भी डी कंपनी से हो सकता है।

एटीएस को यह भी शक है कि जाकिर का कनेक्शन पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई से भी हो सकता है। पूर्व में हुई पूछताछ में जाकिर ने खुद कबूल किया था कि वह विदेश में बैठे एक शख्स के संपर्क में था और उसे वहीं से निर्देश मिलते थे। माना जा रहा है कि जाकिर मुंबई में किसी बड़े आतंकी हमले की फिराक में था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here