28 साल बाद बीसी खंडूरी के घर के आगे लहराया कांग्रेस का झंडा!

पौड़ी से कांग्रेस प्रत्याशी बीसी खंडूरी के बेटे मनीष खंडूरी राजनीति के मैदान में उतर आए हैं और हाल ही में वह कांग्रेस में शामिल हुए थे। इसके बाद कांग्रेस ने उन्हें पौड़ी से उम्मीदवार घोषित किया है। उनके सामने भाजपा प्रत्याशी तीरथ सिंह रावत बड़ी चुनौती है और सभी की नजर पौडी़ सीट पर बनी हुई है कि बीसी खंडूरी का शिष्य जीत हासिल करता है या उनका बेटा।

वहीं बीते दिन 25 मार्च को नामांकन का आखिरी दिन था जिसमें भाजपा और कांग्रेस प्रत्याशियों ने नामांकन किया. इस दौरान मनीष खंडूरी और तीरथ सिंह रावत दोनों ही प्रत्याशियों के साथ उनके समर्थकों की भारी भीड़ देखने को मिली जिसे कहा जा सकता है कि दोनों प्रत्याशियों के बीच यानी कि कांग्रेस और भाजपा के बीच कांटे की टक्कर होने वाले हैं।

इन सब बातों मे एक बात ख़ास है और वे ये है कि उत्तराखंड के ईमानदार पूर्व मुख्यमंत्री व गढ़वाल सांसद बीसी खंडूड़ी के पौड़ी स्थित पैतृक मकान पर एक बार फिर कांग्रेसी झंडा लहराने लगा है। आपको बता दे कि मेजर जनरल खंडूड़ी की मां दुर्गा देवी खंडूड़ी कांग्रेसी थीं। वे मालदन के नाम से जानी जातीं थीं। जब तक वे जीवित रहीं, मकान पर कांग्रेसी झंडा फहराया जाता रहा था।

फिर साल 1991 में सेवानिवृत्ति के बाद मेजर जनरल बीसी खंडूड़ी के भाजपा में शामिल होने के बाद उनके मकान पर भाजपा का झंडा लहराने लगा। अब 28 साल बाद एक बार फिर उनके बेटे मनीष खंडूड़ी के गढ़वाल सीट से कांग्रेस प्रत्याशी बनने के बाद मकान पर कांग्रेसी झंडा लहराने लग गया है।

अब देखना तो यह होगा कि मनीष खंडूरी पौडी़ सीट पर भी अपना परचम लहरा पाते हैं या नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here