उत्तराखंड ब्रेकिंग : कोरोना टेस्ट के लिए नहीं काटने पड़ेंगे अस्पताल के चक्कर, सैंपल लेने घर आएगी वैन

हरिद्वार: उत्तराखंड में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। राज्य के वैसे तो सभी जिलों में कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं, लेकिन देहरादनू, हरिद्वार, नैनीताल और ऊधमसिंह नगर जिले सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। इसको देखते हुए हरिद्वार जिला प्रशासन ने एक बड़ा फैसला लिया है। सैंपलिंग बढ़ाने के लिए नया तरीका निकाला है। लोगों को अपना सैंपल देने के लिए अस्पतालों में घंटों इंतजार नहीं करना पड़ेगा। सितंबर माह के पहले सप्ताह से कोरोना टेस्ट लैब वैन काम करना शुरू कर देगी और ये वैन घर-घर आकर लोगों के सैंपल लेगी।

हरिद्वार जिले में शहर से लेकर देहात तक बड़े पैमाने पर कोरोना संक्रमण फैल रहा है। प्रत्ये दिन औसतन 100 नये मामले सामने आ रहे हैं। राज्य में सबसे अधिक कंटेनमेंट जोन भी हरिद्वार जिले में ही हैं। लोगों ने कंटनेमेंट जोन के आसापास के लोगों की सैंपलिंग कराने की मांग की है। इसको देखते हुए जिला प्रशासन ने बेंगलुरु की एक लैब से अनुबंध किया है। लैब दो वैन जिला प्रशासन को उपलब्ध कराएगी। जिलाधिकारी सी. रविशंकर ने बताया कि एक वैन से एक दिन में सौ सैंपल और दूसरी वैन से एक ही दिन में पांच सौ सैंपल की जांच हो पाएगी।

उन्होंने बताया कि फिलहाल यह अभी यह तय नहीं हुआ कि किसी वैन को लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि जिसके बेहतर रिजल्ट होंगे उसको ही जांच के लिए रखा जाएगा। यह वैन घर-घर जाकर सैंपल लेगी। सितंबर के प्रथम सप्ताह में वैन आ जाएगी। जिलाधिकारी ने बताया कि इसके अलावा जनपद में सैंपलों के चार कलेक्शन सेंटर और बनाए जा रहे हैं। एक रोशनाबाद में, दूसरा रेलवे स्टेशन पर खोला जा रहा है। अन्य दो जरूरत वाले स्थानों पर खोले जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here