देहरादून : सिपाही से अधिकारी बने युवा, 1 साल की कठिन ट्रेनिंग के बाद लेंगे शपथ

देहरादून IMA ने देश को अब तक कई सेना अफसर दिए हैं जो की देश की सीमा और कौनों-कौनों में तैनात रहकर देश की सेवा कर रहे हैं. और सिर्फ देश ही नहीं विदेशी युवाओं ने भी देहरादून आईएमए में ट्रेनिंग की औऱ वो भी अपने देश की सेवा कर रहे हैं. वहीं एक बाऱ फिर से स्थित आर्मी कैडेट कॉलेज की 113 वीं ग्रेजुएशन सेरेमनी में 65 कैडेटों को जेएनयू की डिग्री से सम्मानित किया गया। एसीसी में तीन साल की कठिन ट्रेनिंग और पढ़ाई के बाद यह कैडेट आइएमए की मुख्यधारा से जुड़ गए हैं। अब एक साल ट्रेनिंग के बाद सेना में बतौर अधिकारी के रूप में शामिल हो जाएंगे।

सिपाही के रूप में फौज में भर्ती हुए देशभर के 65 युवाओं ने शुक्रवार को तरक्की की उड़ान भरी। वर्षों से सेना में अफसर बनने का सपना संजोए कैडेट लगन और मेहनत के बूते मुकाम तक पहुंच गए हैं। अब आइएमए में एक साल अफसर की ट्रेनिंग लेने के बाद यह अगले साल होने वाली पीओपी में अफसर पद की शपथ लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here