लद्दाख पहुंचे सेना प्रमुख का बड़ा बयान : LAC पर हालत नाजुक और गंभीर, जवान करेंगे देश का नाम रोशन

देश में एक तरफ कोरोना का कहर बढ़ रहा है तो वहीं चीन के बीच तनाव भी बढ़ रहा है। बीते महीने चीन सैनिकों के साथ झड़प में देश ने 20 जवान खोए थे लेकिन भारतीय जवानों ने प्यार से चीनी सेना को समझाने कोशिश की और शांति बनाए रखी और फिर से अपनी हरकत से बाज न आने पर चेतावनी दी। लेकिन चीनी सेना बाज नहीं आ रही है। बीते दिन चीनी सैनिकों ने घुसपैठ की कोशिश की जिनको भारतीय सेना मुंह तोड़ जवाब देते हुए वापस धकेला। वहीं तनाव को देखते हुए सेना प्रमुख एमएम नरवणे ने एलएसी लद्दाख का दौरा किया और बयान जारी करते हुए कहा कि चीन-भारत सीमा एलएसी पर हालत नाजुक हैं और स्थिति गंभीर है। आपको बता दें कि भारतीय सेना के प्रमुख जनरल एमएम नरवणे दो दिवसीय लद्दाख दौरे पर हैं जो सीमाओं की समीक्षा कर रहे हैं और जवानों का हौसला बढ़ रहे हैं।

समीक्षा करते हुए सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने बयान जारी करते हुए कहा कि अभी जो LAC पर स्थिति है वो नाजुक और गंभीर है, लेकिन हम लगातार इसके बारे में सोच विचार कर रहे हैं. हमारी सुरक्षा के लिए हमने कुछ एहतियाती कदम उठाए हैं. मुझे उम्मीद है कि हमने जो तैनाती की है उससे हम अपनी सुरक्षा कायम रखेंगे. कहा कि अलग-अलग ऑफिसर्स से बातचीत की और स्थिति का जायजा लिया। सेना प्रमुख ने कहा कि जवानों का मनोबल ऊंचा है। वो सीमा पर डटे हुए हैं। मैं यकीनन कह सकता हूं कि हमारे जवान न केवल भारतीय सेना बल्कि देश का भी नाम रोशन करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here