बुरी खबर : देश की रक्षा करते हुए उत्तराखंड का एक और लाल कश्मीर में शहीद

उत्तराखंड के युवा हमेशा से सेना में भर्ती होने के लिए आतुर हैं…हर साल लाखों की संख्या में उत्तराखंड के युवा सेना भर्ती में हिस्सा लेते हैं और देश के रक्षा के लिए सीमा पर डटकर तैनात रहते थे. हालात कैसे भी हो लेकिन वो अपने प्राणों को न्यौवर करने से भी नहीं हिचकते…वहीं अब तक उत्तराखंड के कई सैनिक सरहद पर देश की रक्षा के लिए शहीद हुए हैं…और आज फिर से उत्तराखंड के लिए देश के लिए बुरी खबर है.

लेह-लद्दाख क्षेत्र में थे तैनात

जी हां देश की रक्षा करते हुए उत्तराखंड का लाल जम्मू कश्मीर में शहीद हो गया है। मिली जानकारी के अनुसार सूर्यकान्त पंवार रुद्रप्रयाग जिले के जखोली, बड़मा गांव के रहने वाले थे। सूर्यकान्त पंवार 35 साल के थे और आईटीबीपी में लेह-लद्दाख क्षेत्र में तैनात थे। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार घटना दो दिन पहले की बताई जा रही है. वहीं शहीद की खबर से घर में कोहराम मचा हुआ है.

शहीद का 11 साल का बेटा और 5 साल की बेटी है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सूर्यकान्त पंवार आईटीबीपी में तैनात उत्तराखंड के जवानलेह-लद्दाख क्षेत्र में ग्लेशियर में फंसने के कारण देश के लिए शहीद हो गये हैं। शहीद सूर्यकान्त पंवार का परिवार पिछले कुछ समय से दिल्ली में ही रहता है. शहीद के परिवार में पत्नी समेत 11 साल का बेटा और 5 साल की बेटी है। शहीद की पत्नी और बच्चे दिल्ली में आरके पुरम में रहते हैं. आशंका जताई जा रही है कि शहीद का पार्थिव शरीर 9 मार्च तक उनके पैतृक गांव लाया जाएगा. और वहीं अंतिम संस्कार होगा.

शहीद के पैतृक गांव के घर में बड़े भाई और मां-बाप रहते हैं, शहीद सूर्यकान्त पंवार के पिता सरकारी स्कूल के रिटायर टीचर हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here