उत्तराखंड : ठगी का एक और नया तरीका, पिता-पुत्र को लाखों की चपत

रामनगर: ठगी के कई मामले हर दिन सामने आते रहते हैं, लेकिन तरीका हर बार नया होता है। ऐसा ही एक मामला रामनगर में सामने आया है। रिश्तेदारी के युवक ने पिता-पुत्र से 26.50 लाख रुपये ठग लिए। पिता से एलआइसी में पालिसी कराने तथा बेटे से पेट्रोल पंप में साझेदारी करने का झांसा देकर यह रकम ली थी। पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर रिपोर्ट दर्ज की है।

देहात थाना क्षेत्र के मुहल्ला सुबोधनगर कालोनी में सेवानिवृत्त बैंक कर्मी सतीश चंद्रा बेटे शुभम कुमार के साथ रहते हैं। सतीश के साढ़ू का बेटा मनोज कुमार भारतीय जीवन बीमा निगम की रामनगर शाखा में विकास अधिकारी के पद पर तैनात है। आरोप है कि मनोज ने जून 2019 में सतीश चंद्रा से कहा था कि वे 10-15 लाख रुपये दे दें, जिनकी वह पालिसी दिला देगा। 30 जून 2020 तक उन्होंने मनोज को तीन बार में 12 लाख 50 हजार रुपये दे दिए।

इतना ही नहीं मनोज ने शुभम को भी झांसे में ले लिया। उसे नैनीताल में पेट्रोल पंप लगाने का झांसा देकर 14 लाख रुपये ले लिए। मनोज ने न तो पालिसी ही कराई तथा न ही पेट्रोल पंप लगाया। पिता-पुत्र ने रुपये मांगे तो दोनों को कुछ धनराशि के चेक दे दिए। बैंक में लगाने पर बाउंस हो गए।

पीड़ित पिता-पुत्र ने थाने में तहरीर दी थी लेकिन, पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज नहीं की। लिहाजा उन्होंने अदालत की शरण ली थी। एसओ ब्रजेश कुमार ने बताया कि अदालत के आदेश पर पिता-पुत्र की अलग-अलग तहरीर पर मनोज कुमार के खिलाफ धोखाधड़ी के दो मुकदमे दर्ज किए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here