भारत को बड़ा आर्थिक झटका देने की तैयारी में अमेरिका, छीन लेगा ये सुविधा

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत से जनरलाइज सिस्टम आफ प्रिफरेंस (जीएसपी) सुविधा छीनने की तैयारी में हैं. ट्रंप ने अमेरिकी कांग्रेस को ये जानकारी दी. ट्रंप ने दलील दी कि भारत, अमेरिका को यह आश्वासन देने में विफल रहा है कि वह विभिन्न क्षेत्रों में अपने बाजारों को न्यायसंगत और उचित पहुंच प्रदान करेगा.

अमेरिकी प्रतिनिधिसभा की स्पीकर नैन्सी पैलोसी को लिखे एक पत्र में ट्रंप ने कहा कि भारत ने अमेरिका को ‘आश्वस्त नहीं किया’ कि वह भारत के बाजारों में ‘न्यायसंगत और उचित पहुंच प्रदान करेगा’. जानकारी के मुताबिक ट्रंप ने भारत के साथ-साथ तुर्की से भी ये सुविधा छीनने का फैसला किया है.

क्या है जीएसपी

जीएसपी अमेरिका का एक ट्रेड प्रोग्राम है. इसके तहत अमेरिका विकासशील देशों से बिना टैक्स सामान का आयात करता है.ये सुविधा इसलिए दी जाती है ताकी विकासशील देश आर्थिक तरक्की कर सकें. भारत समेत फिलहाल 129 देशों को ये सुविधा प्राप्त है. 1970 में बनाई गई योजना के तहत लाभ पाने वाला भारत विश्व का सबसे बड़ा देश है.

अपने इस फैसले के बारे में बताते हुए ट्रंप ने इसके साथ भारत में कई अमेरिकी उत्पादों पर लगने वाले बेहद ऊंचे आयात शुल्क की एक बार फिर आलोचना की है. भारत को बेहद ऊंची शुल्क दरों को आड़े-हाथों लेते हुए ट्रंप ने कहा कि वे भी भारतीय उत्पादों पर समान शुल्क लगाना चाहते हैं.

मेरीलैंड में कंजरवेटिव पॉलिटिकल एक्शन कान्फ्रेंस (सीपीएसी) में अमेरिकी राष्ट्रपति ने सवाल किया, ‘क्या भारत हमें बेवकूफ समझता है?’ ट्रंप ने कहा कि वह बताना चाहते हैं कि सारा विश्व अमेरिका का सम्मान करता है. हम एक देश को अपने सामान पर 100 टैरिफ दें और उनके इसी तरह के सामान पर हमें कुछ न मिले, यह सिलसिला अब आगे नहीं चलेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here