उत्तराखंड में गजब हाल : सड़क धंसने से तालाब में गिरा डंपर, दून PWD कर रही है निर्माण

लक्सर : उत्तराखंड के गजब के हाल हैं। आए दिन रोड़ धंसने और पुल टूटने के मामले सामने आ रहे हैं। अधिकारियों की लापरवाही और गड़बड़ी का खामियाजा सरकार को भुगतना पड़ रहा है। अधिकारियों की गलती और लापरवाही के कारण सरकार की किरकिरी हो रही है। हालांकि दोषी पाए जाने पर शासन द्वारा ऐसों पर कार्रवाई भी की जा रही है। ताजा मामला लक्सर का है जहां लक्सर रुड़की हाइवे पर सोलानी पुल के पास सड़क धंसने से डंफर करीब 35 फुट नीचे तालाब में जा गिरा। इस दौरान चालक डंफर के भीतर फंस गया। बाद में पहुंचे दूसरे ड्राइवरों व डंफर स्वामी ने शीशा तोड़कर उसकी जान बचाई। डंफर स्वामी ने एनएच अधिकारियों व ठेकेदार के खिलाफ तहरीर दी है।

आपको बता दें कि एनएच (पीडब्ल्यूडी) देहरादून द्वारा केंद्रीय सड़क निधि के बजट से लक्सर रुड़की स्टेट हाईवे का निर्माण कराया जा रहा है। बीती देर रात लक्सर निवासी कपिल का सामान से लदा डंफर रुड़की की ओर जा रहा था। सोलानी पुल पार करने के बाद डंफर जैसे ही पुलिया पर पहुंचा, वैसे ही डंफर के नीचे से सड़क भरभराकर ध्वस्त हो गई। सड़क ध्वस्त होने से डंफर चालक रिजवान सहित करीब 35 फुट नीचे तालाब में गिर गया। इस दौरान डंफर का चालक वाला केबिन पानी में डूबने के साथ ही लॉक हो गया। उसके पीछे चल रहे दूसरे डंफर के चालकों ने लोहे की रॉड से डंफर के चालक केबिन का शीशा तोड़ा और उसके भीतर फंसे चालक को बाहर निकालकर उसकी जान बचाई।

डंपर स्वामी ने सड़क निर्माण गुणवत्ताहीन होने का आरोप लगाते हुए एनएच के तीन अधिकारियों व निर्माण करा रही मेरठ की निजी फर्म के मालिक सहित छह लोगों के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here