राज्य आंदोलनकारियों से की अजय भट्ट ने अपील

हरिद्वार-
राज्य बनने से लेकर राज्य की स्थाई राजधानी के मसले पर सब्र रखे राज्य आंदोलनकारियों का सब्र अब टूट गया है।
गैरसैंण में आयोजित बजट सत्र में सत्ता पक्ष और विपक्ष को इसका अहसास हो गया है। वहीं सियासी दलों के लीडर्स को भी समझ में आ गया है कि बेहिसाब आबादी से देहरादून के आबोहवा के लिए चिंतित तबके और शिद्दत से गैरसैँण को राजधानी को देखने की हसरत पाले राज्य की जनता को अब नहीं बरगलाया जा सकता।
ऐसे हालात में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने भाजपा का पक्ष रखते हुए राज्य आंदोलनकारियों से गैरसैंण के मसले पर धीरज धरने की अपील की है। अजय भट्ट ने कहा कि भाजपा गैरसैंण के लिए संकल्पबद्ध है और चुनाव के दौरान जारी दृष्टिपत्र के मुताबिक ही गैरसैंण का विकास कर रही है।
 अजय ने मौजूदा बजट सत्र का हवाला देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री का कार से गैरसैण जाना , गैरसैंण में पहली बार महामहिम राज्यपाल का अभिभाषण होना और वित्तीय वर्ष का बजट पास होना इन सब चीजों से अंदाजा लगाया जा सकता है कि सरकार गैरसैंण को लेकर किस दिशा में जा रही है।
वहीं अजय भट्ट ने कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा कि,  गैरसैंण का मुद्दा आज से 6 साल पहले ही सुलझ गया होता अगर कांग्रेस की सरकार, विधानसभा में शहरी विकास मंत्री मदन कोशिक के गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाने के संकल्प प्रस्ताव की खिलाफत न करती ।
ये तमाम बाते उत्तराखंड बीजपी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने हरिद्वार में अवधूत मंडल आश्रम में आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत करते हुए मीडिया के सवालों का जवाब देेते हुए कहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here