उत्तराखंड : 10 साल बाद पकड़ा गया दरिंदा “लाल बाबा”, ये है पूरा मामला

दिनेशपुर : नाबालिग लड़की को बहला फुसलाकर भगा ले जाने के मामले में 10 साल से फरार चल रहे लाल बाबा को पुलिस ने पश्चिम बंगाल से गिरफ्तार कर लिया। साथ ही आरोपित पर पॉक्सो सहित विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर उसे कोर्ट में पेश किया जहां से उसे जेल भेज दिया गया। युवती अपने एक बच्चे के साथ अपने परिजनों के पास रह रही है। उसी ने न्यायालय के माध्यम से बाबा पर दुष्कर्म सहित भगा ले जाने का मुकदमा दर्ज कराया था।

जानकारी के अनुसार 10 साल पहले दिनेशपुर थाना क्षेत्र की एक नाबालिग के साथ लाल बाबा ने दुष्कर्म किया। किशोरी जब गर्भवती हुई तो आरोपित उसे भगा ले गया। पीडि़ता के परिजनों ने थाने में शिकायत दर्ज कराई थी, लेकिन पुलिस लड़की और आरोपित बाबा को ढूंढ नहीं पाई। बाद में 2018 में बाबा के चंगुल से छूटकर घर आई युवती ने बताया कि बाबा ने उसके साथ जबरन दुष्कर्म किया।

उसे एक बच्चा भी पैदा हुआ है। पीडि़ता ने न्यायालय में प्रार्थना पत्र देकर न्याय की गुहार लगाई थी। कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने पश्चिम बंगाल निवासी भोलानाथ बनर्जी उर्फ लाल बाबा पुत्र मधुसूदन बनर्जी पर दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज किया। एसआइ जितेंद्र बिष्ट ने बताया कि पुलिस की एक टीम ने आरोपित को पश्चिम बंगाल से धर दबोचा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here