जिला एवं सत्र न्यायालय के मुख्य गेट पर ताला लगाने और चेंबर सील करने के विरोध में अधिवक्ताओं ने दिया धरना

उधम सिंह नगर (मोहम्मद यासीन) : जिला एवं सत्र न्यायालय में जिला जज के आदेशों पर मुख्य गेट पर ताला जड़ने तथा अधिवक्ताओं के चेंबरों को सील करने से नाराज होकर जिला बार एसोसिएशन के सभी अधिवक्ताओं द्वारा न्यायालय गेट के बाहर धरना प्रदर्शन करते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट की गाईडलाईन के अनुसार प्रदेश के सभी जिलों में निचली अदालतों में कार्य किया जा रहा है। जबकि जिला जज द्वारा न्यायालय मुख्य गेट पर ताला लगा दिया गया है और उनके चैम्बर सील कर दिए गये हैं। न्यायालय कार्यो को ऑनलाईन प्रक्रिया में इंटरनेट की तकनीकी दिक्कतों से ऑनलाईन प्रक्रिया पूरी तरह ध्वस्त हो गयी है। अधिवक्ताओं के चेम्बर सील करने से अधिवक्ताओं की केस फाईल व तमाम जरुरी कागजातो के खराब होने की आशंका बनी रहती है। तमाम दिक्कतों के चलते अधिवक्ता न्यायिक कार्य नही कर पा रहे हैं। जिससे अधिवक्ताओं के सामने रोजी रोटी का संकट उत्पन्न हो गया है।

जिला बार एसोसिएशन के सभी अधिवक्ताओं ने जिला जज के आदेशों के खिलाफ प्रदर्शन कर आरोप लगाया कि यदि उनकी मांगे मानते हुए न्यायालय गेट एवं चैम्बर नही खोले गये तो वह आगे भी धरना प्रदर्शन करते हुए न्यायिक कार्य पूरी तरह ठप कर देंगे। साथ ही मुख्य न्यायाधीश, उत्तराखण्ड हाईकोर्ट के यहां न्याय की गुहार लगायेंगे। साथ ही सभी अधिवक्ताओं ने न्यायालय को आश्वासन देते हुए कहा कि वह सरकार द्वारा कोविड -19 संक्रमण रोकथाम सम्बंधी जारी गाईड लाईन का पूर्ण पालन करने को हमेशा तैयार हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here