कमरे में अंगीठी जला कर सो गए दंपति, गर्भ में पल रहे बच्चे की मौत

नैनीताल के तल्लीताल में अंगीठी की गैस से एक महिला के गर्भ में पल रहे आठ महीने के बच्चे की मौत हो गई। महिला को अस्पताल में एडमिट कराया गया है। महिला का पति भी अस्पताल में भर्ती है।

बताया जा रहा है कि तल्लीताल में पड़ रही ठंड से बचने के लिए ललित ने अपने घर में अंगीठी जलाई थी। ललित और उनकी गर्भवती पत्नी दीपिका कमरे में अंगीठी की आग सेंक रहे थे। रात में दोनों ने खाना खाया और सो गए। इस दौरान अंगीठी की गैस पूरे कमरे में भर गई। इस दौरान रात में अचानक ललित को चक्कर आने लगा। उसने अपने पड़ोसियों को इस बारे में जानकारी दी। इसके बाद पड़ोसी उसके घर तक पहुंचते इससे पहले ही ललित और दीपिका दोनों बेहोश हो चुके थे।

लोगों ने दोनों को बीडी पांडेय अस्पताल पहुंचाया जहां दोनों का इलाज शुरु किया गया। रविवार की सुबह दोनों को होश आया। इसके बाद डाक्टरों ने दीपिका के गर्भ में पल रहे भ्रूण की जांच की। बताते हैं कि उस समय भ्रूण में हलचल थी लेकिन शाम होते होते ये हलचल बंद हो गई। डाक्टरों ने पाया कि भ्रूण की मौत हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here