बिग ब्रेकिंग : बोर्डिंग स्कूल गैंगरेप मामले में मुख्य दोषी को 20 साल की सजा, 4 दोषियों को 9-9, नाबालिग छात्रों को 3-3 साल की सजा

देहरादून: देहरादून के चर्चित बोर्डिंग स्कूल गैंगरेप मामले में पोक्सो कोर्ट ने आरोपी छात्र सरबजीत को सामूहिक दुष्कर्म का दोषी करार कर दिया है। उसे 20 साल की सजा दी गयी है. साथ ही स्कूल की निदेशक लता गुप्ता, प्रिसिंपल जितेंद्र शर्मा, मुख्य प्रशासनिक अधिकारी दीपक, उसकी पत्नी तनु भी अलग-अलग धाराओं में दोषी करार दिये गए हैं। इन पर सुबूत छुपाने, षड्यंत्र रचने और छात्रा का गर्भपात कराने के आरोप लगे थे। सभी को नौ-नौ साल की सजा दी सूनी गयी है. जबकि आया मंजू को बरी कर दिया गया है।

कोर्ट ने इस मामले में आरोपी तीनों नाबालिग छात्रों को भी तीन-तीन साल की सजा सुनाई है। तीनों को पिछले साल किशोर न्याय बोर्ड ने बरी कर दिया था। आज पोक्सो कोर्ट ने सजा सुनाने के बाद तीन दिन के भीतर तीनों को किशोर न्याय बोर्ड के समक्ष प्रस्तुत होने के आदेश दिए है।

ये था पूरा मामला

ये मामला सितंबर 2018 में सहसपुर क्षेत्र के एक बोर्डिंग स्कूल में छात्रा के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया था। घटना 14 अगस्त 2018 की बताई गई थी। आरोप था कि उसके चार सहपाठी और सीनियर छात्र ने उससे दुष्कर्म किया और फिर स्कूल प्रबंधन ने उसका गर्भपात भी कराया। मामले को उसके घरवालों से भी छिपा कर रखा गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here