घर से रंग लेने निकली 9 वर्षीय बच्ची को कबाड़ी ने बनाया बंधक, नौगाँव बाजार में भारी तनाव

उत्तरकाशी। नौगांव में एक 9 वर्षीय छात्रा के अपहरण का मामला सामने आया है। यह लड़की होली के लिए रंग लेने घर से बाहर गयी थी। तभी एक कबाड़ी ने इसे बाथरुम में बंद कर बंधक बना लिया। काफी देर तक लड़की वापस नहीं आयी तो परिजनों ने पुलिस में गुमशुदगी का मामला दर्ज करा दिया। दिन के समय मोहल्ले के बच्चों ने बाथरुम में बंद लड़की की रोने की आवाज सुनी। जिसके बाद वहां होली खेल रहे कुछ युवकों ने बंधक लड़की को छुड़ाया। इसके बाद से ही पूरे इलाके में तनाव का माहैल है।

इस घटना के बाद भड़के युवकों ने कबाड़ी के घर और दुकान पर जमकर तोड़फोड़ की। युवकों ने कबाड़ी के वाहनों को भी आग के हवाले कर दिया। इतना ही नहीं कबाड़ियों से जुड़े आधा दर्जन परिवार को आक्रोशित भीड़ का शिकार बनना पड़ा। इस बवाल में दो युवकों को गंभीर चोटें आयी हैं। जिन्हें इलाज के लिए देहरादून रैफर कर दिया गया है। पीड़िता बच्ची को भी मेडिकल के लिए उत्तरकाशी भेजा जा रहा है।

घटना के बाद नौगांव में तनाव की स्थिति को देखते हुए प्रशासन ने यहां डेरा डाल दिया है। जिलाधिकारी आशीष  चौहान ने पुलिस प्रशासन के साथ पीड़िता छात्रा के घर पहुचकंर बच्ची का हाल-चाल जाना। डीएम ने परिजनों को दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाही का भरोसा दिया। इलाके में तनाव को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने बड़कोट, पुरोला, मोरी,धरासू थाने की पुलिस बल के साथ पीएसी की एक टुकड़ी की मौके पर तैनाती कर दी है।

पुलिस का दावा है कि आरोपी कबाड़ी पुलिस की गिरफ्त में है लेकिन वो कहां है ये अभी पुलिस बताने से बच रही है। दोनों ही आरोपी युवक नौगावं में ही कबाड़ बीनने का काम करते थे।  लेकिन पुलिस के पास दोनों ही आरोपी युवकों की सत्यता का कोई प्रमाण नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here