8वीं गढ़वाल राइफल का जवान सुरेंद्र नेगी जम्मू-कश्मीर में शहीद, सीएम ने दी श्रद्धांजलि

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने केंट रोड स्थित सेना परिसर में 8वीं गढ़वाल राइफल के जवान सुरेन्द्र सिंह नेगी के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। बता दें कि बीते दिन सोमवार को चमोली निवासी नायक सुरेन्द्र सिंह नेगी पुंछ सेक्टर में ड्यूटी के दौरान शहीद हुए थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि दुःख कि इस घड़ी में राज्य सरकार, शहीद के परिजनों के साथ है। उन्होंने कहा कि शहीद के परिजनों की हरसंभव मदद की जाएगी।

मिली जानकारी के अनुसार सीमांत जनपद चमोली के कोटकंडारा क्षेत्र के सुनाली गांव निवासी आठवीं गढ़वाल राइफल्स जम्मू कश्मीर के पुंछ सेक्टर में तैनात सुरेंद्र सिंह नेगी (38 वर्ष) की हार्ट अटैक से मौत हो गई। सुरेंद्र सिंह नेगी रविवार शाम पेट्रोलिंग के बाद कमरे पर लौटे थे। उनकी मौत की खबर से परिवार सदमे में है और पूरे क्षेत्र में शोक की लहर है।

जानकारी मिली है कि जवान सुरेंद्र सिंह परिवार में सबसे छोटे थे। उनके 83 वर्षीय वृद्ध पिता गोविंद सिंह भी सेना से रिटायर्ड हैं जबकि उनके बडे भाई सुलभ सिंह आर्मी से रिटायर्ड और एक मझले भाई दुलभ सिंह भी गढ़वाल राइफल में कार्यरत हैं।

उन्होंने बताया कि सोमवार की सुबह जम्मू आर्मी हेडक्वार्टर से उनके बडे भाई सुलभ को आर्मी के सीओ ने जवान सुरेंद्र सिंह के पेट्रोलिंग के बाद कमरे में लौट सीने में दर्द की शिकायत की थी। इसके बाद उन्हें उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन उपचार के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया। सैनिक जवान की मौत की खबर मिलने के बाद परिजनों का रो-रोक कर बुरा हाल है। 2005 में आठवीं गढ़वाल राइफल में भर्ती जवान सुरेंद्र सिंह अपने पीछे पत्नी अंजू और दो बच्चों को छोड़ गए हैं, जो वर्तमान में देहरादून में रहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here