एक बोतल में रेत भरा और हो गया जल दिवस!

देहरादून – सूबे के पूर्व सीएम हरीश रावत आज अपनी लय में नजर आए। सूबे की सरकार पर रावत ने आरोप लगाए तो नीतियों के विरोध की चेतावनी भी दी वहीं सरकार पर चुटकी ली तो हिदायत भी दी।

राज्य के पूर्व सीएम हरीश रावत ने एन एच 74 मामले में जहां सरकार को लपेटा, वहीं बजट सत्र को गैरसैंण के बजाए देहरादून में आयोजित कराने पर धरना दे कर विरोध की चेतावनी भी दी। जबकि जल दिवस पर शौचालयों के सिस्टर्न में रेत पानी भरी बोतल रखने पर चुटकी भी ली।

रावत ने कहा मुझे जल दिवस पर मुख्यमंत्री से बड़ी उम्मीद थी कि वे पानी के हालात को देखते हुए कोई ठोस पहल करेंगे। लेकिंन सरकार पानी की अहमियत का बड़ा संदेश देने में असफल रही। सरकार राज्य की जनता को कोई स्पष्ट दिशा नहीं दिखा पाई। रावत ने चुटकी लेते हुए कहा,एक बोतल में रेत भरा और हो गया जल दिवस।

वहीं सूबे में चल रही चारधाम यात्रा के इंतजामात पर पूर्व सीएम हरीश रावत ने सवाल  उठाते हुए कहा कि यात्रा के दौरान हो रही कैजुअल्टी यात्रा व्यवस्था पर डेंट लगा रही हैं। जिसका देश-विदेश में अच्छा संदेश नहीं जा रहा है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here