उत्तराखंड में बनेंगे 46 करोड़ के शौचालय और मूत्रालय

 

देहरादून- राज्य के शहरी निकायों में निर्माण कार्य में लगे ठेकेदारों, मिस्त्री और मजदूरों को जहां रोजगार मिलने वाला है वहीं सीनेटरी का सामान बेचने वालों की मौज आने वाली है।

दरअसल इस वित्तीय वर्ष में स्वच्छ भारत अभियान (शहरी)के तहत राज्य में 46 करोड़ रुपए की कार्ययोजना का अनुमोदन किया गया।

46 करोड़ रूपए में दस हजार नए व्यक्तिगत घरेलू शौचालय जबकि एक हजार सामुदायिक शौचालय और 500 मूत्रालयों का निर्माण किया जाएगा।साथ ही साथ ही 32 निकायों में ठोस अपशिष्ट प्रबंधन की डीपीआर तैयार करने, हरिद्वार और देहरादून में परियोजना के संचालन का लक्ष्य स्वच्छ भारत अभियान शहरी की राज्य स्तरीय बैठक रखा गया।

बैठक में बताया गया कि शहरी निकायो के 728 वार्डों में से 390 वार्डें में Door to Door कूड़ा इकट्ठा किया जा रहा है। इसके अलावा मूनि की रेती, हर्बटपुर, विकासनगर, जोशीमठ, टिहरी, श्रीनगर, अगस्तमुनि और जोशीमठ में भी घर-घर जाकर कूड़ा इकट्ठा किया जा रहा है।

बैठक के दौरान इस बात की भी जानकारी मिली कि ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के लिए 9 करोड़ 82 लाख रूपये की DPR तैयार की गयी है। इसके लिये 30 नगर निकायों में भूमि उपलब्ध है जबकि सात नगर निकायों के लिये कार्यवाही चल रही है।

नगर निगम देहरादून, हरिद्वार और 07 नगर निकायों के लिए इस वास्ते साढ़े पांच करोड़ रुपए जारी कर दिये गये हैं।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here