रेहड़ी वाले से खरीदकर खाई 5 रुपये की ऑरेंज आइसक्रीम, पूरा शरीर झुलसा…पढ़िए

गर्मी का मौसम है और ऐसे में आप या आपके बच्चे भी आइसक्रीम खाते ही होंगे. अगर आप या आपके बच्चे रेहड़ी से कुल्फी खरीदकर खाते हैं तो जरा सावधान…क्योंकि ये खबर पढ़कर आपके होश उड़ जाएंगे कि कुल्फी खाने से ऐसा भी हो सकता है…शायद इन अनहोनी का अंदाजा इन बच्चों के पिता और बच्चों को भी नहीं होगा.

पांच रुपये की कुल्फी खरीदकर खाई

दरअसल अमृतसर, तरनतारन के गांव मरहाणा की रहने वाली पांच वर्षीय रामसंदीप कौर ने रेहड़ी से पांच रुपये की कुल्फी खरीदकर खाई थी। कुल्फी खाने के एक घंटे बाद उसकी उसकी त्वचा झुलसने लगी जैसा की आग लगने से होता है. इस बच्ची के शरीर का ऐसा कोई भाग नहीं बचा, जहां की त्वचा झुलसी न हो। आपको बता दें अमृतसर के गुरुनानक देव अस्पताल की स्किन वार्ड में रामसंदीप कौर के ट्रीटमेंट चल रहा है जहां अब तक चार लाख रुपये खर्च हो चुके हैं।

आइसक्रीम खाते ही बच्ची ने कहा कि उसे नींद आ रही है

बच्ची के पिता का कहना है कि रामसंदीप कौर का ननिहाल गांव पंडोरी में है। वह रामसंदीप कौर को लेकर पंडोरी गए थे। यहां ममेरे भाई-बहनें के साथ वह बाहर खेल रही थी। बताया कि इसी दौरान रेहड़ी पर आइसक्रीम बेचने वाले से बच्चों ने आइसक्रीम खाने की जिद की उन्होंने पैसे दे…जिसके बाद रामसंदीप कौर ने ऑरेंज बार ली और ममेरे भाई-बहनों ने कप वाली आइसक्रीम खरीदकर खाई। कुछ देर बाद रामसंदीप घर आई और उसने कहा कि उसे नींद आ रही है। बाकी बच्चे बाहर खेल रहे थे, लेकिन रामसंदीप सो गई।

प्राथमिक जांच में पुष्टि, बच्ची के शरीर में विषैला तत्व चला गया

तरसेम सिंह ने बताया कि बच्ची एक घंटे बाद उठी तो उसकी हालत देख कर परिवार के लोगाें के होश उड़ गए। उसकी होंठ और गाल की चमड़ी फट चुकी थी। खून भी बह रहा था. पिता का कहना है कि उस वक्त तो हमें यही लगा कि शायद उसे किसी कीड़े ने काट लिया है। इसके बाद उसे गांव पंडोरी के निजी अस्पताल लेकर गए और वहां पहुंचने तक उसकी त्वचा जगह-जगह से फट चुकी थी। बताया कि वहां डॉक्टरों ने जांच की तो पता चला की बच्ची के शरीर में इंफेक्शन हुआ है। डॉक्टरों ने उसे तत्काल अमृतसर के एक निजी अस्पताल में रेफर कर दिया। यहां प्राथमिक जांच में पुष्टि हुई कि बच्ची के शरीर में विषैला तत्व चला गया है, जिससे उसकी ऐसी हालत हुई। बहरहाल, रामसंदीप को गुरुनानक देव अस्पताल स्किन वार्ड में रखकर ट्रीटमेंट दिया जा रहा है।

स्किन वार्ड के इंचार्ज डॉ. एसके मल्होत्रा ने कहा कि बच्ची को स्किन इंफेक्शन हुई है। परिजनों के मुताबिक बच्ची ने कुल्फी खाई थी। बच्ची को असहनीय दर्द भी हो रहा है। आमतौर पर ऐसी अवस्था ड्रग रिएक्शन की वजह से होती है। ड्रग रिएक्शन का तात्पर्य सिर्फ दवा या नशा नहीं, किसी भी खाद्य वस्तु जिसमें केमिकल युक्त रंगों का प्रयोग किया जाता है, उसके सेवन से ड्रग रिएक्शन हो जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here