32 साल पहले दिया वारदात को अंजाम, 22 साल से फरार और अब बुढापे 70 साल की उम्र में गिरफ्तार

अगर हम आपको कहें कि एक युवक ने 32 साल पहले चोरी की और वो 22 साल से फरार था और अब वो 70 का हो चला है और अब बुढापे में गिरफ्तार हुआ तो क्या यकीन करेंगे। यकीन करना थोड़ा मुश्किल होगा लेकिन ये सच है। एक युवक ने 32 साल पहले चोरी की तबसे वो फरार था और अब गिरफ्तार हुआ। जी हां मामला  नई दिल्ली जिले की मंदिर मार्ग थाना पुलिस का है जहां पुलिस ने ऐसे भगोड़े बुजुर्ग आरोपी को पकड़ा जिसने 32 साल पहले दिल्ली में चोरी की वारदात को अंजाम दिया था और वो अब 70 साल की उम्र में गिरफ्तार हुआ है। आरोपी फजरू 22 साल से फरार था उसे भगोड़ा घोषित किया गया था। जानकारी मलिी है कि बुजुर्ग को मंदिर मार्ग थाना पुलिस ने इसके साथी दीनू (60) को 29 अगस्त को गिरफ्तार किया था। दीनू भी 22 वर्ष से भगोड़ा घोषित था।

मिली जानकारी के अनुसार फजरू ने दीनू और एक अन्य साथी के साथ मिलकर साल 1989 में अंबेडकर नगर, दिल्ली में चोरी की वारदात को अंजाम दिया था। इन्होंने दुकान का शटर तोड़कर महंगे कपड़े और नगदी चोरी की थी। अंबेडकर नगर थाना पुलिस ने उस वक्त फजरू और अन्य साथियों को गिरफ्तार कर लिया था। इनके कब्जे से चुराए गए कपड़े बरामद हो गए थे।  लेकिन वहीं कोर्ट ने बाद में फजरू को जमानत पर रिहा कर दिया था। लेकिन इसके बाद वो कोर्ट आया ही नहीं। जिसके बाद कोर्ट ने फजरू को 4 जून, 1998 को भगोड़ा घोषित कर दिया था। फजरू शातिर अंतर्राज्यीय सेंधमार था। ये रात के समय दुकानों को अपना निशाना बनाते थे। साथ में गौवंश को भी दिल्ली से उठाकर ले जाते थे। हरियाणा व राजस्थान पुलिस इसे कई केसों में चार बार गिरफ्तार कर चुकी है। फजरू अलवर जेल, राजस्थान, भोंडसी जेल हरियाणा, किशनगढ़ जेल राजस्थान और तिहाड़ जेल दिल्ली में बंद रह चुका है। वहीं इस पर किसी को यकीन नहीं हो पा रहा है हर कोई ये कह रहा है कि आखिर ये आरोपी छुपा कहां था और इतने सालों बाद जब सारा हुलिया बदल गया है कैसे पुलिस की पक़ड़ में आया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here