राज्य में होगी ‘‘देवभूमि डायलॉग’’ की शुरुआत, मुख्यमंत्री से कर सकेंगे सीधे संवाद

देहरादून- मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत अप्रैल माह से नियमित रूप से ‘‘देवभूमि डायलॉग’’ नाम से जन संवाद कार्यक्रम की शुरूआत करेंगे। यह जानकारी देते हुए मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रमेश भट्ट ने बताया कि मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र जनता से सीधे जुड़कर उनके सुझावों और फीडबैक के आधार पर सरकार की नीतियों और कार्यक्रमों को लागू करने के पक्षधर है। अभी हाल ही में मुख्यमंत्री ने ‘‘आपकी राय आपका बजट’’ कार्यक्रम के तहत प्रदेश के विभिन्न भागों में सीधा जन संवाद किया और लोगों के कई सुझावों को बजट में शामिल किया।

देवभूमि डायलॉग की जानकारी देते हुए भट्ट ने बताया कि देवभूमि उत्तराखण्ड के विभिन्न वर्ग के लोगों से सीधा संवाद कायम करने के लिए देवभूमि डायलॉग की परिकल्पना की गई है। जनता से सीधा संवाद गुड गवर्नेस का महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। इसमें समाज के अलग-अलग क्षेत्रों के लोगों के साथ मुख्यमंत्री हर महीने सीधा संवाद करेंगे। उनके सुझाव सुनेंगे और उन पर विचार करेंगे।

आयोजन स्थलों के सम्बन्ध में देवभूमि डायलॉग के लिए विषय की महता के अनुसार अलग-अलग क्षेत्र चुने जाएगे। मसलन किसानों के लिए उत्तरकाशी, हरिद्वार एवं उधमसिंह नगर ज्यादा मुफीद हो सकता है। इसी तरह संत समाज से संवाद के लिए हरिद्वार, ऋषिकेश को चुना जाएगा। सांस्कृतिक क्षेत्र का संवाद अल्मोड़ा या पौड़ी में आयोजित किया जाएगा।

कार्यक्रम रूपरेखा

देवभूमि डायलॉग कार्यक्रम के दौरान संबंधित क्षेत्र के अधिकारी द्वारा उस क्षेत्र की उपलब्धियों और योजनाओं के बारे में प्रेजेंटेशन दिया जाएगा। इसके बाद मुख्यमंत्री उस विषय पर अपने विचार रखेंगे। इस कार्यक्रम में संबंधित क्षेत्र के मंत्रियों की भागीदारी भी होगी।

कार्यक्रम में सवाल जवाब का दौर भी होगा। संबंधित क्षेत्र के लोगों द्वारा दिए गए सुझावों को संबंधित अधिकारी नोट करेंगे साथ ही तकनीकी रूप से सवालों के जवाब भी देंगे। प्रत्येक कार्यक्रम के सुझावों और आउटपुट को कैसे इंप्लीमेंट करें इस पर संबंधित अधिकारी मुख्यमंत्री से विचार विमर्श करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here