गजब : कोरोना मरीजों को दिए छोले-भटूरे, DM मंगेश घिल्डियाल का चढ़ा पारा, वेतन काटने के निर्देश

टिहरी गढ़वाल : कोरोना काल में डॉक्टर लोगों को काढ़ा पीने, हल्दी वाला दूध पीने और इम्यूनिटी बढ़ाने संबंधित काढा़ पीने के सेवन की सलाह दे रहे हैं तो वहीं टिहरी के सुरसिंगधार कोविड सेंटर में लोगों को जहर के समान छोले-भटूरे दिए जा रहे हैं। तली चीज तो वैसे भी आम जिंदगी के लिए हानिकार है लेकिन टिहरी के सुरसिंगधार कोविड सेंटर में कैंटीन संचालक ने कोरोना मरीजों को छोले-भटूरे खिलाए जिसे देख डीएम मंगेश घिल्डियाल का पारा चढ़ गया। जिलाधिकारी ने कैंटीन चालक को कड़ी फटकार लगाई और उसका एक दिन का भुगतान काटने के निर्देश दिए। जानकारी मिली कि स्वास्थ्य विभाग के मैन्यू में छोले भटूरें शामिल नहीं हैं बावजूद इसके मरीजों को छोले-भटूरे दिए गए जो की हानिकारक हैं। जिलाधिकारी ने औचक निरीक्षण में जब यह देखा तो कैंटीन संचालक को कड़ी फटकार लगाई।

निरीक्षण करने पहुंचे डीएम मंगेश घिल्डियाल ने कैंटीन चालक को सख्त निर्देश दिए कि वो स्वास्थ्य विभाग के निर्देश पर ही मरीजों को खाना खिलाए। इस दौरान डीएम ने कोवि़ड सेंटर में साफ-सफाई रखने के निर्देश दिए। वहीं इस दौरान डीएम ने कोरोना मरीजों के बचे हुए खाने को इधर-उधर फेंकने पर भी नाराजगी जाहिर की और ऐसे करने वालों पर सख्त कार्रवाई करने की चेतावनी दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here