रचा इतिहास : टोक्यो ओलंपिक में चमकी हरिद्वार की वन्दना, जीत की खुशी बांटने घर पहुंचे जिलाधिकारी

हरिद्वार – उत्तराखंड की बेटी वंदना कटारिया ने दुनिया में आज उत्तराखंड, हरिद्वार का ही नहीं बल्कि पूरे देश का नाम रोशन किया है। बता दें कि टोक्यो ओलंपिक में हरिद्वार रोशनाबाद की वंदना कटारिया ने इतिहास रचा और जीत का परचम लहाराया जिससे पूरे रोशनाबाद समेत पूरे हरिद्वार और उत्तराखंड में खुशी का माहौल है। वहीं इस जीत पर खुशी बांटने के लिए हरिद्वार के जिलाधिकारी सी रवि शंकर आज वंदना के घर पहुंचे और खुशियां बांटी।

हरिद्वार की वंदना कटारिया ने रचा इतिहास

आपको बता दें की टोक्यो ओलंपिक में हैट्रिक लगाने वाली उत्तराखंड की वंदना कटारिया का नाम इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया है। हरिद्वार की वंदना ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच में एक के बाद एक तीन गोल कर टीम को जीत दिलाई। उनके इस प्रदर्शन की बदौलत भारत ने साउथ अफ्रीका की टीम को 4-3 से हराया और टोक्यो 2021 की महिला हॉकी के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को बरकरार रखा, जहाँ वन्दना के इस प्रदर्शन से हरिद्वार के सभी खेल प्रेमी भी खुश नजर आ रहे है. वही आज जिलाधिकारी ने भी वन्दना कटारिया के परिवार को उनके निवास रोशनाबाद में जाकर फूल गुच्छ भेट कर बधाई दी ।

आपको बता दें कि वंदना ने ओलंपिक में हैट्रिक लगाकर पहली भारतीय महिला हॉकी खिलाड़ी का यह खिताब भी अपने नाम कर लिया है। बता दें कि 1984 के बाद किसी भारतीय ने ओलंपिक में हैट्रिक नहीं लगाई थी। वंदना ने ऐतिहासिक उपलब्धि से दिवंगत पिता को श्रद्धांजलि दी है। अपनी तैयारी के चलते वह पिता के निधन पर भी गांव नहीं आ सकी थीं। वंदना की इस उपलब्धि पर परिजनों, ग्रामीणों और जिले के खेल अधिकारियों में जश्न का माहौल है। बहादराबाद ब्लॉक क्षेत्र के गांव रोशनाबाद निवासी वंदना कटारिया ने पढ़ाई के साथ हॉकी को अपना कॅरियर बनाने के लिए जी जान से मेहनत की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here