उत्तराखंड : सेल्फी के चक्कर में फंसे कांग्रेस के ‘बाबा’, भाजपा के बैनर पर कर गए हस्ताक्षर

हल्द्वानी  : सेल्फी के आपने कई दिवाने देखें होंगे और सेल्फी के प्रति उनकी दिवानगी भी आपने देखी होगी। कोई सेल्फी के लिए पानी की टंकी में चढ़ जाता है तो कोई खतरनाक फ्लाई ओवर पर खड़े होकर सेल्फी लेते हैं को कई समुद्र की तेज जानलेना लहरों के बीच। लेकिन इन दिनों पूर्व सांसद अपनी एक तस्वीर को लेकर चर्चाओं में हैं और इस पर उनकी सफाई सामने आई है जो की सेल्फी से ही जुड़ी है।

सीएए समर्थन वाले पोस्टर पर हस्ताक्षर करने पर वायरल हुई फोटो पर दी सफाई

जी हां कांग्रेस के टिकट पर लगातार दो बार नैनीताल लोकसभा सीट से सांसद रह चुके पूर्व सांसद केसी सिंह बाबा सेल्फी के चक्कर में अपनी पार्टी की किरकिरी करा गए जिनकी एक फोटो जमकर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। पूर्व सांसद ने सीएए के समर्थन वाले पोस्टर पर हस्ताक्षर करने पर वायरल हुई फोटो पर शुक्रवार को सफाई दी। उन्होंने कहा कि सीएए के समर्थन वाले बैनर पर हस्ताक्षर की वजह लोगों द्वारा लगातार सेल्फी लेने का आग्रह करना था। वह उत्तरायणी से जुड़े बैनर पर हस्ताक्षर को उठे थे, लेकिन भीड़ होने व लोगों द्वारा बार-बार सेल्फी का आग्रह करने पर गलती से सीएए के बैनर पर हस्ताक्षर कर बैठे। फिर कुछ लोगों ने फोटो वायरल कर दिया। स्वराज आश्रम में प्रेसवार्ता के दौरान पूर्व सांसद ने प्रदेश सरकार के तीन साल के कार्यकाल को निराशाजनक बताया। कहा कि लोगों से किया एक भी वादा पूरा नहीं हुआ।

दूसरे कार्यक्रम में गए थे पूर्व सांसद

दरअसल हुआ यूं कि मंगलवार को काशीपुर में उत्तरायणी मेले के दौरान भाजयुमो ने चामुंडा मंदिर परिसर के बाहर सीएए के समर्थन में हस्ताक्षर अभियान चलाया था। पूर्व सांसद बाबा ने कहा कि वह पर्वतीय समाज के कार्यक्रम में शामिल होने गए थे। वहां कार्यक्रम से संबंधित बैनर पर भी हस्ताक्षर कराए जा रहे थे। बगल में ही सीएए का बैनर भी था। वह कार्यक्रम से जुड़े बैनर पर हस्ताक्षर करने जा रहे थे। इस दौरान लोगों ने कई बार उनके साथ सेल्फी लेने का आग्रह किया तो भीड़ की वजह से बीच-बीच में हल्का धक्का भी लगता गया। इस वजह से वह खिसककर सीएए समर्थन वाले बैनर तक पहुंच गए। पूर्व सांसद ने बकायदा पूरी घटना का डेमो भी करके दिखाया। बाबा ने कहा कि धार्मिक आयोजन के दौरान इस तरह के राजनैतिक कार्यक्रम नहीं होने चाहिए।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here