उत्तराखंड : एक तरफ कोरोना का कहर तो दूसरी तरफ जल संस्थान का, पानी के टैंक में मरा पड़ा बंदर

उत्तरकाशी के बड़कोट थाना क्षेत्र से जल संस्थान की बड़ी लापरवाही सामने आई है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बड़कोट थाना क्षेत्र के जस संस्थान के पानी के टैंक में कई दिनों से बंदर मरा हुआ पड़ा है लेकिन किसी का भी ध्यान इस ओर नहीं गया। कई दिनों से लोग दूषित पानी पी रहे हैं लेकिन किसी को इसकी भनक नहीं हैै।

एक तरफ कोरोना का कहर दूसरी तरफ जल संस्थान की लापरवाही

एक और देश और दुनिया में लोग घातक वायरस कोरोना से मर रहे हैं और इससे संक्रमित है तो वहीं दूसरी और प्रदेश में विभागों की लापरवाही का खामियाजा लोगों को भुगतना पड़ रहा है। उत्तरकाशी के बड़कोट थाना क्षेत्र स्थित जल संस्थान के पानी के टैंक में बीते कई दिनों से बंदर मरा हुआ पड़ा है लेकिन किसी भी कर्मचारी का ध्यान इस ओर नहीं गया।  लोग रोजाना दूषित पानी पी रहे हैं।

लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़

इतने दिनों से किसी को मरा हुआ बंदर नहीं दिखा। वहीं लोगों का आरोप है कि विभाग टैंक पर नजर नहीं रख रहा है। खास तौर पर साफ सफाई का जिससे लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। खुले में होने के बावजूद टैंक को कवर नहीं किया जा रहा है। और ये पहली बार नहीं है जब ऐसा हुआ हो बल्कि पहले भी ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here