…तो लालकुंआ पर है रोहित शेखर तिवारी का फोकस

रोहित शेखर तिवारी

लालकुंआ, संवाददाता- उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी ने लालकुआॅ विधानसभा क्षेत्र से अपने पुत्र रोहित शेखर तिवारी को आगामी विधानसभा चुनावों में मैदान में उतारने का पूरा मन बना लिया है। लिहाजा लालकुआ विधानसभा में रोहित शेखर तिवारी छोटी छोटी नुक्कड़ सभा कर जनसम्पर्क में जुट गए है।

लालकुआ विधानसभा का एक बड़ा हिस्सा बिन्दुखत्ता गांव है जिसे बसाने में एन डी तिवारी का बड़ा योगदान रहा है यही वजह है कि एनडी तिवारी के सबसे ज्यादा समर्थक लालकुआ विधानसभा में रहते है। लिहाजा रोहित शेखर तिवारी को लालकुआ विधानसभा सीट सबसे ज्यादा मुफीद लग रही है ।

खबर ये भी है कि जल्द ही रोहित अपने पिता एन डी तिवारी और माता उज्वला तिवारी के साथ लालकुआ विधानसभा क्षेत्र के मोटाहल्दू इलाके में घर लेकर शिफ्ट होने वाले है। हालांकि ये भी कयास लगाए जा रहे हैं कि रोहित शेखर आनेवाली 7 दिसंबर को हल्दवानी में हो रही भाजपा की परिवर्तन यात्रा के दौरान बीजेपी के राषट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के सामने भाजपा का दामन थाम सकते हैं। अगर ये खबर सच हुई तो तय है कि कांग्रेस और भाजपा दोनों खेमों में खलबली मच जाएगी। बीजेपी से चुनाव लड़ने की कयासों ने जहाँ कांग्रेसियो को परेशान कर रखा है तो वहीं बीजेपी दावेदारों के ख्बाब टूटने लगे है।

माना जा रहा है कि रोहित शेखर के राजनैतिक भविष्य के लिए कांग्रेस की ओर से उन्हें अभी धैर्य रखने की नसीहत दी गई है। रोहित दिल्ली में सोनिया गांधी से मुलाकात कर चुके हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि रोहित अपने सियासी भविष्य संवारने के लिए इस चुनाव मे कोई भी चाल खेल सकते हैं। हालांंकि रोहित ने अभी अपने पत्ते नही खोले हैं। बहरहाल देखना ये दिलचस्प होगा कि लालकुंआ में रोहित शेखर एन.डी.तिवारी की सियासी रॉयल्टी को अपने पक्ष में कैश करा पाते हैं या नहीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here