पौड़ी गढ़वाल में शिक्षक ने की छात्राओं के साथ अश्लीलता, एक्शन में शिक्षा सचिव

देहरादून : देश के पीएम नरेंद्र मोदी देश में बेटियों को बचाने और पढ़ाने के लिए अभियान चलाए हुए हैं लेकिन ये सिर्फ सलोगन बनकर रह गया है। आए दिन बच्चियों को हवस का शिकार बनाया जा रहा है। हरिद्वार मामले ने देवभूमि समेत सबक झकझोर दिया। वहीं ताजा मामला पौड़ी गढ़वाल से सामने आया जहां एक गुरु ने स्कूल में छात्राओं के साथ अश्लील हरकत की। इस मामले का संज्ञान उत्तराखंड शिक्षा सचिव मीनाक्षी सुंदरम ने लिया है। इस मामले को लेकर शिक्षा सचिव एक्शन में हैं। उन्होंने मामले के जांच के आदेश दे दिए हैं।

आपको बता दें कि पौड़ी गढ़वाल जिले के जहरीखाल विकासखंड के पुंडीर गांव में जूनियर हाई स्कूल में कार्यरत एक शिक्षक ने दो छात्राओं के साथ अश्लील हरकत की और साथ ही बदसलूकी भी की। शिक्षक पर आए दिन ऐसी हरकत करने का आऱोप है। वहीं इसकी शिकायत प्रधानाचार्य से भी की गई। प्रिंसिपल सुमन काला ने खंड शिक्षा अधिकारी और उच्च अधिकारियों को इस मामले के बारे में बताया लेकिन सब चुप रहे। शिक्षक को सजा दिलाने के बजाए सब इस बात को दबाने में लग गए। किसी ने उन छात्राओं के बारे में नहीं सोचा जिनको बचाने के लिए देश के पीएम बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान चलाए हैं।

जानकारी मिली है कि पीड़ित छात्राओं के अभिवावकों को मामले को रफा दफा करने के लिए 15000 रुपये दिए गए। इसमें स्थानीय जनप्रतिनिधि और स्कूल के कर्मचारी भी शामिल थे।  वहीं इस मामले की सूचना जब शिक्षा सचिव मीनाक्षी सुंदरम को मिली तो उन्होनें सख्त रुख इख्तियार किए और तुरंत मामले की जांच माध्यमिक शिक्षा निदेशक आर के कुंवर, अपर निदेशक माध्यमिक शिक्षा गढ़वाल मंडल महावीर सिंह को सौपी। शिक्षा सचिव ने दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की बात कही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here