रुड़की : नारसन बॉर्डर पर फिर बढ़ी सख्ती, श्रद्धालुओं की एंट्री बैन, भेजा जा रहा वापस

रुड़की : कोरोना के बढ़ते कहर को देखते हुए एक बार फिर से बोर्डरों पर सख्ती बढ़ा दी गई है। पुलिस प्रशासन अलर्ट मोड पर आ गया है। बता दें कि एक बार फिर से रुड़की के नारसन बॉर्डर पर पुलिस ने आज सुबह से ही सख्ती दिखानी शुरू कर दी है। कोरोना के कहर के चलते मकर सक्रांति के स्नान पर हरिद्वार आने वाले श्रद्धालुओं की एंट्री बंद कर दी गई है. इसके बाद भी जो श्रद्धालु बॉर्डर पर पहुंच रहे हैं उनको पुलिस अब वापस भेजने का काम कर रही है।

बता दें कि आज गुरुवार सुबह से ही पुलिस बोर्डर पर तैनात है। और बाहरी राज्यों से आने वाले कई श्रद्धालुओं को वापस भेज दिया गया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण बाहरी राज्यों से आने वाले लोगों और श्रद्धालुओं पर प्रतिबंध लगा दिया गया है जिस कारण बॉर्डर पर ही रोक कर वापस भेजा जा रहा है।

आपको बता दें कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए हरिद्वार में मकर सक्रांति के अवसर पर होने वाले स्नान पर प्रशासन के द्वारा प्रतिबंध लगा दिया गया था एसएसपी हरिद्वार ने भी 2 दिन पहले सर्द वालों से अपील की थी लेकिन फिर भी बहुत से श्रद्धालु स्नान के लिए नारसन बॉर्डर पर पहुंच रहे हैं बॉर्डर पर पहुंचने वाले श्रद्धालुओं की संख्या को देखते हुए मंगलौर कोतवाली पुलिस ने अब बॉर्डर पर सख्ती दिखानी शुरू कर दी है जिसके चलते पुलिस के द्वारा श्रद्धालुओं को बॉर्डर पर ही रोका जा रहा है और बॉर्डर से ही वापस भेजा जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here