हल्ला बोल : फॉरेस्ट गार्ड भर्ती परीक्षा घपले के खिलाफ गैरसैंण में धावा बोलेगी NSUI

देहरादून : फॉरेस्ट गार्ड भर्ती परीक्षा में नकल कराने के मामले से उत्तराखंड की राजनीति समेत लोगों में हड़कंप मच गया है। खास तौर पर युवाओं में रोष है क्योंकि वो बेरोजगारी की मार झेल रहे हैं ऐसे में परीक्षा में धांधली होना, धक्का लगने जैसा है। युवा सड़कों पर उतर आए हैं और जांच की मांग कर रहे हैं. वहीं रविवार को एनएसयूआई ने भी वन मंत्री हरक सिंह रावत के आवास के बाहर प्रदर्शन किया औऱ कई कार्यकर्ताओं के पुलिस ने गिरफ्तार किय़ा। वहीं 3 मार्च से बजट सत्र गैरसैंण में होने जा रहा है जिसके लिए एनएसयूआई रणनीति तैयार कर रहे हैं।

गैरसैंण सत्र काफी हंगामेदार होने का आसार 

जी हां अब एनएसयूआई गैरसैंण में सरकार को घेरने की तैयारी में है। जी हां फॉरेस्ट गार्ड भर्ती परीक्षा में नकल कराने के खिलाफ एनएसयूआई गैरसैंण में सरकार को घेरेगी। शनिवार को हुई प्रदेश व जिला कार्यकारिणी की बैठक में इस पर फैसला लिया गया। जिसके बाद आसार जताए जा रहे हैं कि गैरसैंण सत्र काफी हंगामेदार होने का आसार हैं।

मुख्य आरोपी रुड़की से गिरफ्तार

बता दें कि परीक्षा में धांधली के मुख्य आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया लेकिन फिर भी अभी युवाओं को संतुष्टि नहीं हुई। युवाओं समेत विपक्ष ने जांच की मांग की ह।पुलिस का कहना है कि परीक्षार्थियों को नकल कराई गई। जांच में सामने आया कि पेपर लीक नहीं हुआ था, लेकिन ब्लूटूथ से नकल कराई थी। सिविल लाइंस कोतवाली में एसएसपी सेंथिल अबुदई कृष्णराज एस ने बताया कि ब्लूटूथ से फॉरेस्ट गार्ड भर्ती परीक्षा में नकल कराने के मामले में मुख्य आरोपी मुकेश सैनी, संचालक ओजस्व कैरियर कोचिंग सेंटर, गुरुकुल नारसन को मंगलौर से गिरफ्तार कर लिया। उससे ब्लूटूथ, मोबाइल, एयर फोन बरामद किया गया। इलेक्ट्रानिक उपकरणों की इस बात के लिए जांच की जा रही है कि, परीक्षा में किसको नकल कराई गई थी। फरार शेष सात आरोपियों की तलाश में भी पुलिस टीमें लगी हुई हैं और जल्द उनकी गिरफ्तारी होगी।

ये भी पढ़ें : बेरोजगार युवाओं के जख्मों पर छिड़का नमक, किसी ने किराए के कमरे में तो किसी ने पार्टटाइम जॉब कर की तैयारी

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here