जानिए बच्चों के लिए मास्क लगाना है कितना सुरक्षित, किससे हो सकते हैं बेहोश?

दुनिया भर में कोरोना का कहर जारी है। बच्चे से लेकर बुजुर्ग भी इसकी चपेट में हैं। लेकिन कई नन्हे बच्चे इसे मात भी दे चुके हैं। वहीं सरकार द्वारा लॉकडाउन में छूट दी गई है लेकिन कुछ नियम बनाएं हैं जिनका पालन न करने पर सख्त कार्रवाई की जा रही है। जैसे मास्क लगाना अनिवार्य. वहीं इस बीच सवाल उठ रहा है कि क्या बच्चों को मास्क लगाना सही है या उनको मास्क लगाना जरुरी है.

तो बता दें कि अमेरिकी हेल्थ एजेंसी सीडीसी ने यह साफ कहा है कि दो साल से कम उम्र के बच्चों के लिए भी मास्क खतरनाक है, क्योंकि इससे दम घुटने की आशंका बनी रहती है। वहीं, दो या दो साल से ज्यादा उम्र के बच्चों के लिए मास्क लगाना सुरक्षित है। बशर्ते, उन्हें कोई सांस संबंधी परेशानी न हो।

दरअसल उनकी श्वास-नली बहुत संकरी होती है, जिससे उन्हें सांस लेने में परेशानी हो सकती है। ऑक्सीजन की कमी से वे बेहोश भी हो सकते हैं। साथ ही जब वे मास्क हटाने की कोशिश करते हैं तो इसमें भी जोखिम है। यदि मास्क गले में उलझ गया तो इससे भी उसे सांस लेने में दिक्कत हो सकती है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भी कहा है कि बच्चों को मास्क पहनना पूरी तरह से सुरक्षित नहीं है। जब मास्क को बार-बार निकाला जाता है तो वह दूषित हो जाता है साथ ही मास्क पहनने से आसपास के एरिया में कुछ लोगों को बहुत पसीना होता है और ये प्रॉब्लम बच्चों के साथ भी हो सकती है। इस संक्रमण से बचाव का सबसे आसान तरीका यही है कि आप बच्चों के साथ घर के भीतर रहें और 3 साल से कम आयु के बच्चों को मास्क न पहनाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here