नैनीताल में सादगी और भावुक मन से किया गया मां नन्दा-सुनन्दा देवी को विदा

नैनीताल : सरोवर नगरी नैनीताल में चल रहे छ दिवसीय 118वें मां नन्दादेवी महोत्सव का शुक्रवार को विधिवत् धार्मिक अनुष्ठानों के साथ सादगी से समापन हुआ। कोविड-19 के चलते अबकी बार माॅ नन्दा-सुनन्दा के डोले को नगर भम्रण करने के बजाय मां नन्दादेवी मन्दिर परिसर के भीतर ही परिक्रमा कराने के बाद  मूर्तियों का नैनीझील में विधिवत् विर्सजन किया गया। इस मौके पर नैनीताल विधान सभा के विधायक संजीव आर्य ने भी मां नन्दा-सुनन्दा के दर्शन कर आर्शिवाद लिया।  इससे पूर्व सुबह मां नन्दादेवी परिसर में  में पूजा अर्चना हुई। इस दौरान यजमान के रूप में माॅ नैनादेवी अमर उदय ट्रस्ट के अध्यक्ष राजीव लोचन साह सपत्नीक शमिल हुए। ठीक 12ः15 बजे मां नैनादेवी के दरबार से मां नन्दा व सुनन्दा के डोले का मन्दिर परिसर के भीतर भ्रमण कराया गया। इस दौरान मां के जय कारों से मन्दिर परिसर भक्तिमय हो गया। जिला प्रशासन की मौजूदगी में मां नन्दा व सुनन्दा की प्रतिमाओं का विधिवत् रूप से नैनीझील में विसर्जन कर किया।

 मां नन्दा-सुनन्दा की प्रतिदिन आयोजित होने वाली पूजा, अर्चना एवं आरती का सजीव प्रसारण श्रद्धलुओं तक पहुंचाने के लिए विशेष व्यवस्था की गई थी। महोत्सव एवं मां के डोले का सजीव प्रसारण स्थानीय ताल चैनल, यू-ट्यूब, फेसबुक, व्हाट्सएप के माध्यम से किया गया। सोशल मीडिया के माध्यम से हो रहे सजीव प्रसारण को जिला नैनीताल के अलावा देश दुनिया के लाखों श्रद्धालू माॅ नन्दा-सुनन्दा के लाइव दर्शन किये। इस अवसर नगरपालिका अध्यक्ष सचिन नेगी व पूर्व अध्यक्ष मुकेश जोशी, उपजिलाधिकारी विनोद कुमार, पुलिस क्षेत्राधिकारी विजय थापा, मल्लीताल कोतवाल अशोक कुमार सिंह, रामसेवक सभा के अध्यक्ष मनोज साह, महासचिव जगदीश चन्द्र बवाड़ी, डा. मनोज सिंह बिष्ट, विमल चैधरी, देवेन्द्र लाल साह, राजेन्द्र बजेठा, भीम सिंह कार्की, हिमांशु जोशी, कमलेश ढौंढियाल, कुन्दन सिंह बिष्ट सहित रामसेवक सभा के कई पदाधिकारी व सदस्य आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here