उत्तराखंड: बेखौफ खनन माफिया, जवानों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, करनी पड़ी हवाई फायरिंग

रुड़की: रुड़की क्षेत्र में खनन माफिया बेखौफ हैं। इतने बेखौफ कि उनको कानून का भी डर नहीं हैं। गंगनहर से खनन कर रहे माफियाओं को रोकने पहुंचे आईआरबी के जवानों को खनन माफियाओं ने दौड़ा-दौड़ा कर भगा दिया। इतना ही नहीं, उनके साथ मारपीट भी गई। मजबूरत आईआरबी जवानों को हवाई फायर करना पड़ा, जिसके बाद माफिया फरार हो गए। आईआरबी जवान की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात खनन माफिया के खिलाफ मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

यह मामले एक दिन पहले का बताया जा रहा है। जानकारी के अनुसार आईआरबी में तैनात कांस्टेबल अर्जुन सिंह रावत ने पुलिस को तहरीर दी है, जिसमें उन्होंने कहा है कि खनन रोकथाम के लिए चार आईआरबी के जवानों कांस्टेबल अर्जुन सिंह, दीपक भंडारी, राजकुमार कुकरेती और सेक्शन इंचार्ज, एससीपी सुनील गैरोला की ड्यूटी मोहम्मदपुर झाल स्थित सकौती घाट पर लगाई गई है। शुक्रवार की सुबह करीब सात बजे वह अपने साथियों के साथ गश्त कर रहे थे। इस दौरान सकौती घाट पर उन्हें कुछ खनन माफिया गंगनहर से खनन करते हुए दिखाई दिए।

जवानों ने मौके पर पहुंचकर ट्रैक्टर ट्रॉली और भैंसा बुग्गी को गंगनहर से बाहर निकालने और खनन बंद करने को कहा। इससे खनन माफिया भड़क गए और आईआरबी जवानों से गाली गलौज और धक्का-मुक्की शुरू कर दी। वे फावड़े और लाठी-डंडे लेकर उनके पीछे भागने लगे और उन्हें दौड़ाते हुए मारपीट शुरू कर दी। पुलिस को मामले की जानकारी देने पर बाइक पर सवार होकर दो अज्ञात व्यक्ति आए और वहां मौजूद खनन माफिया को भड़काते हुए फिर से उनके साथ गाली गलौज व मारपीट करने लगे।

खुद को खनन माफिया के बीच घिरा देख आईआरबी के जवानों ने हवा में फायर कर दिया। फायर की आवाज सुनते ही खनन माफिया अपनी एक बाइक को मौके पर ही छोड़कर फरार होने में कामयाब हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने बाइक को कब्जे में लेने के साथ ही खनन माफिया का पीछा भी किया।

लेकिन, वह भागने में कामयाब हो गए। पुलिस ने आईआरबी जवान की तहरीर पर 20-25 अज्ञात खनन माफिया के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया है। कोतवाली प्रभारी प्रवीण कोश्यारी ने बताया कि आईआरबी के जवानों के साथ मारपीट करने वाले खनन माफिया की तलाश की जा रही है। जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here