चश्मदीद का खुलासा : जलने के बाद भी 1 KM तक दौड़ी रेप पीड़िता, खुद किया पुलिस को फोन, हमें लगा चुड़ैल है

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता को जिंदा जलाने के मामले ने पूरे देश को चौंका कर रख दिया है. पहले हैदराबाद मामला और अब गैंगरेप पीड़िता को सरेराह जिंदा जलाया.

वती मदद के लिए करीब 1 किमी तक दौड़ी थी-चश्मदीद

वहीं इस मामले पर अब चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार पीड़िता को जिंदा जलाए जाने के बाद पीड़िता युवती मदद के लिए करीब 1 किमी तक दौड़ी थी औऱ इसके बाद पीड़िता ने खुद ही 112 पर फोन कर पुलिस को घटना की सूचना दी थी। इस घटना का एक चश्मदीद भी समाने आया है।

चश्मदीद आया सामने

मिली जानकारी के अनुसार चश्मदीद का नाम रविंद्र प्रकाश बताया जा रहा है। गवाह के अनुसार बिक जिंदा जलाए जाने के बाद पीड़िता करीब एक किलोमीटर तक दौड़ते हुए उसके पास मदद के लिए पहुंची थी। इसके बाद उसके फोन से पीड़िता ने खुद ही 112 नंबर पर डायल किया और पुलिस को घटना की सूचना दी। पीड़िता से बात के बाद पीआरवी और पुलिस मौके पर पहुंची।

हमें लगा ये चुड़ैल है-चश्मदीद

 चश्मदीद ने बताया कि वह वहां से दौड़ती हुई चली आ रही थी और बचाओ-बचाओ चिल्ला रही थी। जब हमने पूछा कौन तो उसने बताया कि अपनी पहचान बताई। बताया कि हम डर गए, वह पूरी तरह से जली हुई थी। हमें लगा ये चुड़ैल है। हम पीछे भागे और डंडा उठाया इस दौरान हमने कुल्हाड़ी लाओ, कुल्हाड़ी लाओ आवाज भी लगाई। बताया कि पहचान जानने के बाद भी हमारा डर कम नहीं हुआ और उससे दूर खड़ा रखा। इसके बाद पीड़िता ने हमसे फोन मांगा और खुद ही 100 नंबर पर बात की, जिसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और उसे लेकर चली गई।

वहीं दूसरी ओर उन्नाव कांड में पीड़िता को जिंदा जलाए जाने की घटना के बाद पीड़िता ने अस्पताल में बयान भी दिया है। मजिस्ट्रेट को दिए अपने बयान में पीड़िता ने 5 आरोपियों के नाम लिए हैं। पीड़िता के बयान के अनुसार, पांचों आरोपियों ने मिलकर पहले उसे मारा पीटा, चाकू भी मारा और फिर जिंदा जला दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here