हरिद्वार में बड़े घोटाले का मामला आया सामने, सुपरवाइजर के खिलाफ बड़ा एक्शन

हरिद्वार : लक्सर सहकारी गन्ना विकास समिति लक्सर में खाद और कीटनाशकों के वितरण में घोटाले के मामले में प्रशासनिक जांच में तत्कालीन सुपरवाइजर की भूमिका सामने आई है। एसडीएम ने सुपरवाइजर के खिलाफ कार्रवाई की संस्तुति की है। इसी साल जून माह में सहकारी गन्ना विकास समिति के रायसी गोदाम में 21 लाख 11 हजार 770 रूपये का खाद और कीटनाशक घोटाला सामने आया था।

डीसीओ की प्रारंभिक जांच में उस समय तैनात रहे सुपरवाइजर अनिल कुमार राठी की भूमिका गबन में सामने आई थी। डीसीओ के आदेश पर आरोपित सुपरवाइजर अनिल के खिलाफ लक्सर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया गया था। मामले में शिकायत पर जिलाधिकारी ने भी एसडीएम पूरण सिंह राणा के नेतृत्व में एक तीन सदस्यीय जांच कमेटी गठित की थी।

घोटाले की जांच पूरी कर कमेटी ने अब रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेज दी है। एसडीएम पूरण सिंह राणा ने बताया कि सुपरवाइजर के पास उस समय रायसी गोदाम का चार्ज था। इस दौरान उसने किसानों को बहला-फुसलाकर उनकी चेकबुक ले ली और किसानों की चेकबुक पर गोदाम से खाद व कीटनाशकों का गबन किया गया। जांच के दौरान इसकी पुष्टि हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here