द्रोणनगरी नगरी बनेगी ड्रोननगरी, सीएम ने किया ड्रोन फेस्टिवल का शुभारंभ

देहरादून : उत्तराखंड में त्रिवेंद्र सरकार ने राज्य में निवेश और रोजगार बढ़ाने के लिए ड्रोन निर्माता कंपनियों के लिए रेड कारपेट बिछा दी है। जिसका पहल एक बाऱ फिर से सरकार ने छेड़ी है। जी हां त्रिवेंद्र सरकार ने दूसरी बार ड्रोन फेस्टिवल की अनोखी पहल एक बार फिर शुरु की है। आज से आईटी पार्क में द्वितीय ड्रोन फेस्टिवल का शुभारंभ हो गया है जिसका उद्घाटन सीेएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया। बता दें कि ये ड्रोन फेस्टिवल दो दिनों तल चलेगा जिसमे कई राज्यों के 130 से ज़्यादा प्रतिभागी इसमे शामिल हो रहे हैं।

विभिन्न क्षेत्रों में बढ़ी ड्रोन की उपयोगिता 

बता दें कि आज के समय में विभिन्न क्षेत्रों में ड्रोन की उपयोगिता बढ़ गई है और इसका इस्तेमाल भी लगातार बढ़ रहा है। अगर साल 2013 की आपदा के वक्त ड्रोन का इस्तेमाल किया जाता तो परिणाम बेहतर होते। ड्रोन की मदद से ढंग से बचाव एवं राहत कार्य हो पाता।

द्रोणनगरी को बनाया जाएगा ड्रोननगरी

पिछली बार पहले ड्रोन फेस्टिवल में सीएम ने बयान दिया था कि द्रोणनगरी को ड्रोननगरी बनाया जाएगा। ड्रोन फेस्टिवल से प्रदेश को कई फायदे होंगे। पहला सुरक्षा की दृष्टि से अहम औऱ दूसरा रोजगार के नए अवसर सृजित होंगे। जब पहली बार इस फेस्टिवल की शुरुआत की गई थी तो मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भारत की ओर से की गई एयर स्ट्राइक पर कहा कि पहले जब बैठते थे तो पेट का बटन खुलता था अब बैठते हैं तो सीने का खुलता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here