कांग्रेस का हमला, कहा- भगवान से बड़े हो गए PM, आस्था को किया तार, मां से मिलने जाते तो कैमरा लेकर

देहरादून। पीएम मोदी के केदारनाथ दौरे के बाद कांग्रेस एक बार फिर से भाजपा पर हमलावर हुई। बता दें कि पीएम के दिल्ली लौटने के बाद प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने प्रेस वार्ता कर पीएम के केदारनाथ दौरे को लेकर जमकर वार किया और इस दौरे को राजनीतिक दौरा बताया। कांग्रेस ने पीएम के इस दौरे को निराशा वाला दौरा बताया।

गोदियाल बोले- मेेरे कहने पर नहीं किया तीर्थपुरोहितों ने पीएम का विरोध

कांग्रेस भवन में आयोजित कांग्रेस की प्रेस वार्ता में गणेश गोदियाल ने कहा कि वो दो दिन से तीर्थ पुरोहितों से बात कर रहे थे औऱ उन्होंने ही तीर्थ पुरोहितों से पीएम मोदी का विरोध ना करने को कहा था। गणेश गोदियाल ने कहा कि वो तीर्थ पुरोहितों का धन्यवाद अदा करते हैं कि उन्होंने पीएम का विरोध नहीं किया। इसके लिए कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने तीर्थ पुरोहितों का आभार जताया।

पीएम के दौरे से निराशा मिली-गोदियाल

आगे वार करते हुए गणेश गोदियाल ने कहा कि पीएम से उत्तराखंड के लिए बड़ी घोषणा की उम्मीद की थी लेकिन पीएम के दौरे से निराशा मिली। कहा कि उनको और जनता को उम्मीद थी कि पीएम मोदी उत्तराखंड की जनता के लिए बड़ी घोषणा करेंगे लेकिन पीएम सिर्फ राजनीति इरादे से आए औऱ चले गए।

अपनी पूजा गर्भ गृह से लाइव करा कर आस्था को तार किया-गोदियाल

गणेश गोदियाल ने कहा कि पीएम मोदी ने अपनी पूजा गर्भ गृह से लाइव करा कर आस्था को तार किया। इस पर वार करते हुए कहा कि गर्भ गृह से पूजा करते हुए लाइव दिखाना गलत है। केदारनाथ से राजनीतिक भाषण दिए जाने पर भी गोदियाल ने निंदा की। उन्होंने कहा कि केदारनाथ में लेजर शो का भी जिक्र किया था। जब मैं बद्रीमन्दिर समिति का अध्यक्ष था तब लेजर शो का मैंने विरोध किया था। तव शो भी टला और पीएम का दौरा भी टला।

गणेश गोदियाल ने वार करते हुए कहा कि देवस्थान बोर्ड के एक्ट में प्रवधान है कि बद्री नाथ और केदारनाथ धाम के गर्भ गृह के दर्शन लाइव नहीं होंगे लेकिन पीएम भगवान से बड़े हो गए हैं जो नियम कानून का उल्लंघन कर रहे हैं। पीएम अपनी माँ से मिलने जाते हैं तभी कैमरा लेकर जाते हैं। भगवान के दर्शन करने जाते हैं तभी भी कैमरा लेकर जाते हैं। केदारनाथ धाम का राजनैतिक उपयोग करना गलत है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here