बड़ी खबर : देहरादून से अंबाला भागे सट्टेबाजों को पुलिस दबोच लाई, 5 लाख की नगदी बरामद

देहरादून के कोतवाली नगर क्षेत्र पुलिस ने ऑनलाइन सट्टे के अवैध करोबार में लिप्त अन्तर्राज्यीय गिरोह का पर्दाफाश किया। कोतवाली पुलिस ने अम्बाला से 04 आरोपियों को 05 लाख रूपये से अधिक की नगदी और अन्य सट्टा साम्रगी के साथ गिरफ्तार क्या। साथ ही पुलिस ने आरोपियों का वाहन जीप कम्पास (यूके-07-डीए-4444) को सीज करलिया है।

बता दें कि डीआईजी अरुण मोहन जोशी के निर्देश पर जिल मे भर में रात्री चेकिंग की जा रही है। 9 अक्टूबर की रात क्षेत्राधिकारी नगर के नेतृत्व में गठित पुलिस टीम ने बैण्ड बाजार खुडबुडा क्षेत्र में स्थित एक घर से तीन अभियुक्तों अजय जयसवाल, हरिओम जयसवाल और चिराग चड्ढा को आईपीएल क्रिकेट मैचों में आनलाइन सट्टा लगाते हुए गिरफ्तार किया गया था। जिनके कब्जे से  25 लाख से अधिक की नगदी व सट्टे से सम्बन्धित अन्य सामग्री बरामद की गयी थी।

शनिवार को पकड़े गए आरोपी ने उगले थे राज

पूछताछ में आरोपी अजय जयसवाल ने बताया था कि वह उत्तराखण्ड और अन्य राज्यों से भी आनलाइन सट्टा लगवाता है। वो और उसका भाई हरिओम देहरादून से ही सट्टे के पूरे नेटवर्क को संचालित करते हैं। सट्टे के इस कारोबार में उसके भाई हरिओम के पुत्र अंकित जयसवाल और अंकुश जयसवाल भी उनके साथ शामिल हैं, जो अन्य राज्यों से सट्टा लगवाने व पैसा जमा करने का कार्य करते हैं। उसके दोनो भतीजे इस कार्य के लिये अक्सर दिल्ली व अन्य जगहों पर जाते रहते हैं, इसलिये उन्होंने दिल्ली के लाजपत नगर में एक कमरा किराये पर लिया है, जहां पर रहकर भी वह उक्त सारी गतिविधियां संचालित करते हैं।

पुलिस को मिली तो आरोपियों के अंबाला जाने की सूचना

बताया कि वर्तमान में भी दोनों अपने साथियों के साथ दिल्ली और अन्य स्थानों से पैसा जमा करने गये हैं। इस सूचना पर डीआईजी ने पुलिस टीम गठित करने के निर्देश दिए। एसपी सिटी की भी अहम भूमिका रही। गठित टीम ने दिल्ली लाजपतनगर क्षेत्र में आरोपियों की तलाश की। पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि अंकित जयसवाल और अंकुश जयसवाल के पैसा कलैक्ट करने करने के लिए अम्बाला सिटी जाने और वहां पर जग्गी सिटी सैन्टर में होटल क्लार्क इन में रूके होने की सूचना मिली है। पुलिस टीम ने तुरंत अम्बाला सिटी पहुंची और बताए गए होटल पर दबिश दी। पुलिस ने कमरे से अंकित जयसवाल और अंकुश जयसवाल के साथ दो अन्य युवक गगन-हिमांशु को भी गिरफ्तार किया। पुलिस को मौके से रूपये 05 लाख से अधिक की नगदी, समेत फोन, लैपटाप औऱ अन्य सामान बरामद हुआ। चारों को गिरफ्तार कर देहरादून लाया गया, जिन्हें आज समय से मा न्यायालय के समक्ष पेश किया जायेगा।

आरोपी ने उगले राज, ऐसे करते हैं पापा-चाचा सट्टे का कारोबार

पूछताछ में आरोपी अंकित जायसवाल ने बताया कि उनके चाचा अजय जयसवाल देहरादून से ही आनलाइन सट्टा लगाने का नेटवर्क संचालित करते हैं, जिसमें मेरे पिता हरिओम जयसवाल भी उनका सहयोग करते हैं।  बताया कि मेरे चाचा और मेरे पिता पूर्व से ही सट्टे के कारोबार में लिप्त रहे हैं और इस कारण कई बार जेल भी जा चुके हैं। उनके द्वारा वर्तमान में चल रहे आईपीएल मैचों में भी आनलाइन सट्टा लगाने का नेटवर्क देहरादून से संचालित किया जा रहा है, जिसमें उत्तराखण्ड, दिल्ली व अन्य स्थानों से काफी लोग अपना पैसा लगाते हैं।

अंकित ने बताया कि उसके पिता और चाचा देहरादून में रहकर आईपीएल मैचों में सट्टा लगाने का कार्य करते हैं और वो और उसका भाई अंकुश जयसवाल हमारे अन्य दो साथियों के साथ बाहरी राज्यों से आनलाइन सट्टा लगाने वाले लोगो का सट्टा लगवाने व उनके पैसा जमा करने का काम करते हैं। जिसके केिए वहां जाना पड़ता है। बताया कि इसलिये हमने दिल्ली के लाजपतनगर इलाके में एक कमरा किराये पर लिया है। जहां से हम सभी लोगों से फोन करते हैं। बताया कि उसके चाचा देहरादून में संचालित किये जा रहे आनलाइन सट्टे में उनका पैसा लगाने का काम करते हैं। आज भी वो दिल्ली और उसके आस-पास के स्थानों से लोगों से पैसा जमा करने के लिये आये थे, जहां उन्हें गिरफ्तार किया गया।

पुलिस टीम में नरोत्तम सिंह बिष्ट, थानाध्यक्ष क्लेमन्टाउन, उप निरीक्षक  विवेक राठी, उप निरीक्षक संदीप कुमार, उप निरीक्षक प्रवीण सैनी. कांस्टेबल नितिन त्यागी, कांस्टेबल सुनील प्रसाद,  कांस्टेबल प्रमोद , कांस्टेबल  अरशद (एसओजी) शामिल रहे।

आरोपियों का नाम पता

1: अंकित जायसवाल पुत्र हरिओम निवासी: 1618, खुडबुडा मौहल्ला देहरादून
2: अंकुश जयसवाल पुत्र हरिओम निवासी: 1618, खुडबुडा मौहल्ला देहरादून
3: गगन पुत्र गुरदयाल निवासी: 101 भण्डारी बाग थाना पटेलनगर
4: हिमांशु पुत्र प्रमोद कुमार निवासी: 33 डांडीपुर, थाना कोतवाली नगर।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here