सचिवालय अधिकारी को ब्लैकमेल करने के आरोप में कथित पत्रकार गिरफ्तार, मंत्री के करीबी को भी कर चुका है ब्लैकमेल!

देहरादून में एक कथित पत्रकार को सचिवालय के एक अधिकारी अनिल यादव से ब्लैक मेलिंग के जुर्म में गिरफ्तार कर लिया गया है।

वन मंत्री हरक सिंह रावत के करीबी ने दर्ज कराया था मुकदमा

आरोप है कि कथित पत्रकार सोशल मीडिया के माध्यम से एक गलत गलत खबरें प्रसारित कर ब्लैकमेल कर रहा था। वर्तमान में यह अधिकारी उत्तराखंड शासन राज्य संपत्ति विभाग में वरिष्ठ सहायक के पद पर तैनात है तथा आजकल इनकी ड्यूटी राज्य संपत्ति के अतिथि गृह जौलीग्रांट में है। कथित पत्रकार के खिलाफ वन मंत्री हरक सिंह रावत के करीबी ने ब्लैकमेलिंग के आरोप में मुकदमा दर्ज कराया था। उस दौरान इसको गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया था।

इसके अलावा कथित पत्रकार के खिलाफ पेयजल विभाग के एक अधिशासी अभियंता ने भी ब्लैकमेलिंग का मुकदमा दर्ज कराया था। पिछले काफी लंबे समय से सचिवालय के इन अधिकारी से कथित पत्रकार अपने फोन नंबर से फोन करके खबरों के एवज में पैसों की डिमांड कर रहा था लेकिन ध्यान देने से स्पष्ट रूप से मना करने पर वह लगातार मिथ्या खबरें प्रसारित करके उनको मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रहा था और बदनाम किया जा रहा था। पुलिस ने अमित सहगल को ब्लैकमेलिंग एक्सटार्सन की धारा की धारा384 के अंतर्गत गिरफ्तार कर दिया है।

 अधिकारी ने अपनी शिकायत में कहा कि वह और उनका परिवार गहरे अवसाद में चल रहा है और उन्हें यह महसूस हो रहा है कि यह व्यक्ति उनको टारगेट करके उनसे धनराशि हटने के लिए और उनके परिवार पर कुछ अन्य लोगों के माध्यम से लगातार निगरानी रख रहा था। सचिवालय के अधिकारी ने अपनी तहरीर में पुलिस को बताया कि पूर्व में भी राज्य संपत्ति के कुछ और अधिकारियों और कर्मचारियों के संबंध में भी मिथ्या खबरें प्रकाशित और प्रसारित करके वह उनसे मोटी धनराशि एक चुका है और उक्त व्यक्ति पूर्व में भी ब्लैकमेलिंग के आरोपों में जेल जा चुका है।

 अधिकारी ने पूर्व में उनके बारे में प्रसारित की गई खबरों की प्रतिलिपि भी अपने प्रार्थना पत्र के साथ पुलिस को सौंपी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here