बिग ब्रेकिंग : 11 साल बाद उत्तराखंड पुलिस ने दिखाया दम, बिजनौर मुठभेड़ के बाद ईनामी बदमाश गिरफ्तार

उत्तराखंड एसटीएफ और उधमसिंह नगर पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। उत्तराखंड पुलिस ने 11 साल बाद दमखम दिखाया औऱ कुख्यात को गिऱफ्तार किया।जी हां उधम सिंह नगर और आसपास के ईलाकों में फिरौती वसूलने और साल 2012 के ट्रिपल मर्डर केस में पैरोल के बाद फरार चल रहे ईनामी बदमाश कुलदीप सिंह उर्फ केडी के साथी परमजीत, जो बीते दिन बिजनौर में हुई मुठभेड़ में शामिल था को, उत्तराखंड की उधमसिंह नगर पुलिस औऱ एसटीएफ ने गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। मौके से पुलिस ने कई तमंचे और जिंदा कारतूस भी बरामद किए हैं। साथ ही कार सीज की है। वहीं आऱोपी केड़ी अब भी फरार है।

दरअसल 26 दिसंबर को उत्तराखण्ड एसटीएफ और ऊधम सिंह नगर पुलिस के 20 हजार रुपये के ईनामी बदमाश कुलदीप सिंह उर्फ केडी पुत्र स्वरुप सिंह निवासी मुडिया मनी थाना बाजपुर, ऊधम सिंह नगर और उसके गैंग की तलाश और गिरफ्तारी के लिए उत्तर प्रदेश के चांदपुर बिजनौर में मुखबिर की सूचना पर मामूर थे। उत्तराखण्ड पुलिस ने डीजीपी के निर्देशों पर ईनामी बदमाशों के खिलाफ गिरफ्तारी अभियान चलाया है। इसी के तहत एसटीएफ को उधम सिंह नगर और आसपास के ईलाकों में फिरौती मांगने और साल 2012 के ट्रिपल मर्डर केस में पैरोल के बाद फरार चल रहे ईनामी बदमाश कुलदीप सिंह उर्फ केडी की तलाश में लगी पुलिस टीम को बीती शाम मुखबिर ने सूचना दी।

पुलिस पर की बदमाशों ने फायरिंग

मुखबिर ने बीते दिन शनिवार को एसटीएफ और पुलिस को सूचना दी कि उपरोक्त बदमाश अपने साथियों के साथ एक स्विफ्ट कार में आ रहा है। इस सूचना पर उत्तराखंड एसटीएफ और उधम सिंह नगर पुलिस ने कार का पीछा किया। पुलिस की घेराबन्दी को देखकर कार सवार बदमाशों ने पुलिस टीम पर फायरिंग की। पुलिस की जवाबी कार्यवाही में एक गोली ईनामी बदमाश कुलदीप सिंह उर्फ केडी को लगी, लेकिन अंधेरा और गन्ने के खेत का फायदा उठाकर सभी आरोपी फरार हो गए। केडी गैंग का एक साथी परमजीत सिंह उर्फ नस्वर सिंह पुत्र जितेन्द्र सिंह(26) निवासी मीरापुर सिकरी गन्धौर थाना हेमपुर डिपो जिला बिजनौर को गिरफ्तार तमंचे और जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार किया गया। साथ ही कार को भी सीज किया गया।

बरामद सामान

01 अदद तमंचा 315 बोर नाजायज व 08 कारतूस 315 बोर जिन्दा व 01 कारतूस 315 बोर खोखा, 01 अरतूस 32 बोर व 01 अदद पिस्टल 32 बोर नाजायज मय 01 अदद मैगजीन मय 04 अदद जिन्दा कारतूस 32 बोर व 01 अदद खोखा कादद स्विफ्ट कार संख्या HR51 BM 2639 बरामद किया गया।

बाकी फरार बदमाश केडी और अन्य की तलाश के लिए एसटीएफ और उधम सिंह नगर की संयुक्त पुलिस टीम की काम्बिंग जारी है। बता दें कि पुलिस पर जान से मारने की नियत से गोली चलाने और अवैध हथियार बरामद होने पर आरोपी कुलदीप सिंह उर्फ केडी औऱ गिरफ्तार आऱोपी परमजीत सिंह के विरुद्ध थाना चांदपुर जनपद बिजनौर पर विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। मुख्य आरोपी केडी फरार है।

कुलदीप सिंह उर्फ केडी का आपराधिक इतिहास

1-मु0अ0स0 146/2005, धारा 364ए, 395 भा0द0वि0 व 2/3 गैंगस्टर एक्ट थाना खटीमा

2-मु0अ0स0 248/2005, धारा 147,148,149, 307 भा0द0वि0 कोतवाली रुद्रपुर

3- मु0अ0स0 1328/2005 धारा 364ए, 392 भा0द0वि0 थाना बाजपुर

4- मु0अ0स0 78/2008 धारा 379, 411 भा0द0वि0 थाना बाजपुर

5- मु0अ0स0 397/2008 धारा 379, 411 भा0द0वि0 थाना बाजपुर

6- मु0अ0स0 121/2008 धारा 307 भा0द0वि0 व 25 शस्त्र अधिनियम थाना बाजपुर

7- मु0अ0स0 138/200/ धारा 2/3 गैंगस्टर एक्ट थाना बाजपुर

8- मु0अ0स0 293/2012 धारा 147,148,149, 323,352,506 भा0द0वि0 थाना बाजपुर

9- मु0अ0स0 649/2012 धारा 147,148,149, 302,307, 120 बी भा0द0वि0 थाना बाजपुर

10- मु0अ0स0 49/2012 धारा 307, 427 भा0द0वि0 व 4/25 शस्त्र अधिनियम थाना पुलभट्टा

11- मु0अ0स0 193/2020 धारा 188, 511,120बी भा0द0वि0 व 3/25 शस्त्र अधिनियम

12- मु0अ0स0 728/2020 धारा 307 भा0द0वि0 थाना चांदपुर

13- मु0अ0स0 730/2020 , 3/25 आयुध अधिनियम थाना चांदपु

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here