एक साथ जली 14 चिताएं, शवों से लिपटकर रोए परिवार वाले, मचा कोहराम

बीते दिन यूपी के प्रतापनगर जिले के कुंडा में बड़ा सड़क हादसा हुआ था जिसमे बारात की बोलेरो वाहन सड़क पर खड़े ट्रक से जा टकराई थी इसमे 14 लोगों की मौत हो गई थी। इनमें 6 नाबालिग भी शामिल थे। वहीं जब सभी 14 लोगों के शव शुक्रवार दोपहर बाद जिरगापुर गांव पहुंचे तो गांव में कोहराम मच गया। परिवार वालों की चीख पुकारमच गई। पुलिस भी सन्न रह गई। गांव वालों का दिल बैठ गया और आंखें नम हो गई। बीते दिन शाम करीब 4 बजे के करीब एक साथ 13 अर्थियां उठीं तो लोगों की आंखें नम हो गई। लोग रोते बिलखते रहे।

जानकारी मिली है कि सभी का मानिकपुर के करेंटी घाट पर शवों का अंतिम संस्कार किया गया। इससे पहले हादसे में मारे गए मासूम अंश का शव एंबुलेंस से ननिहाल जिरगापुर से उसके गांव हथिगवां भेजा। जानकारी जिरगापुर निवासी संतलाल यादव के बेटे सुनील यादव की गुरुवार को शादी थी। बरात नवाबगंज थाना क्षेत्र के शेखपुर मोहम्मदपुर गांव में गई थी। सभी लोग शादी से वापस लौट रहे थे। गांव के ही एक फौजी की बोलेरो से परिवार के लोग घर लौट रहे थे। जिसमें बच्चों समेत कुल 14 लोग सवार थे। करीब  रात 12 बजे मानिकपुर थाना क्षेत्र के देशराज का इनारा के पास तेज रफ्तार बोलेरो अनियंत्रित होकर सड़क पर खड़े ट्रक में पीछे से जा घुसी। इस हादसे में बोलेरो में सवार सभी 14 लोगों की मौत हो गई। मौके पर पुलिस पहुंची और शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम  के लिए भेजा। बीते दिन जब शव गांव पहुंचा तो कोहराम मच गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here