सूरज मौत मामला : आरोपी पकड़ से बाहर, कल सामूहिक रूप से पेट्रोल डालकर आत्मदाह करने की चेतावनी

लालकुआं : सूरज के मौत की गुत्थी नहीं सुलझ ने से नाराज परिजन अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे हैं और अब लोगों के सब्र का बांध टूटता जा रहा है लगातार क्षेत्रवासी भी धरना प्रदर्शन में शामिल होकर पीड़ित परिवार का साथ दे रहे हैं.

50 लाख रुपये मुआवजा और नौकरी देने की मांग

वहीं आज राज्य महिला आयोग की पूर्व अध्यक्ष अमिता लोहनी और नानकमत्ता के चेयरमैन प्रेम सिंह टूर्ना ने भी पीड़ित परिवार का साथ देते हुए धरना प्रदर्शन में शामिल हुए और सूरज के परिजनों को ढांढस बंधाया इस दौरान सभी लोगों ने एक सुर में सूरज को न्याय दिलाने और दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की है. इतना ही नहीं समर्थन में आए तमाम जनप्रतिनिधि सूरज के भाई को 50 लाख रुपये मुआवजा और नौकरी देने की मांग भी करने लगे हैं. आज दिनभर चले घटनाक्रम के दौरान शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए हल्दुचौड़ पुलिस के जवान दिनभर मुस्तैद रहे. वही लोकल इंटेलिजेंस की टीम भी लगातार परिस्थितियों पर नजर बनाए रही। इधर क्षेत्रीय विधायक नवीन दुम्का ने भी पीड़ित परिवार से मिलकर उन्हें ढांढस बंधाया और आश्वासन दिया कि उन्हें न्याय दिलवाया जाएगा।

दोस्तों ने दी आत्मदाह की चेतावनी

वहीं आइटीबीपी में भर्ती के लिए आए सूरत सक्सेना की मौत के बाद से ही उसके दोस्तों का पारा सातवें आसमान पर है. आज सूरज के दोस्तों ने ऐलान किया है कि पुलिस द्वारा दी गई डेडलाइन आज शाम को खत्म हो रही है. मगर आरोपी अभी तक पुलिस की पकड़ से बाहर हैं. सूरज के दोस्त गुरविंदर सिंह ने दो टूक कहा है कि अगर आज शाम तक दोषी सामने नहीं आते तो कल वह सामूहिक रूप से पेट्रोल डालकर आत्मदाह कर लेंगे. उन्होंने कहा कि जब उनका दोस्त इस दुनिया में नहीं रहा तो वह लोग भी आत्मदाह जरूर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here